ममता बनर्जी की पार्टी ने संसद में कहा- बंगाल में आर्मी टोल वसूल रही है; डिफेंस मिनिस्टर बोले- पॉलिटिकल फ्रस्ट्रेशन में सेना को न घसीटें

नई दिल्ली. ममता बनर्जी की पार्टी ने शुक्रवार को संसद में बंगाल में आर्मी की तैनाती का मुद्दा उठाया। लोकसभा में टीएमसी सांसद सुदीप बनर्जी ने कहा, ”गुरुवार दोपहर को बंगाल में आर्मी में टोल प्लाजा पर कब्जा जमा लिया है। वहां आर्मी टोल वसूल रही है। यह संघीय ढांचे पर हमला है।” इस पर सरकार की ओर से मंत्री अनंत कुमार ने कहा, ”आप आर्मी को सियासत में नहीं घसीटें।” बता दें कि बंगाल के टोल नाकों पर आर्मी की तैनाती से ममता बनर्जी नाराज हैं। डिफेंस मिनिस्टर ने क्या कहा…
– रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने कहा, ”एक राज्य के मुख्यमंत्री ने आर्मी के बारे में जो कहा, उससे मुझे सदमा पहुंचा। ये आर्मी की रूटीन एक्सरसाइज है।”
– ”पिछले साल भी 15, 18 और 19 नवंबर को हुआ था। पिछले 15-20 साल से यूपी, बिहार, बंगाल और नॉर्थ-ईस्ट में जारी है।”
– ”इसके लिए 28, 29 और 30 नवंबर की तारीख तय की गई थी।”
– ”आर्मी ने राज्य सरकार को जानकारी दी थी। लेकिन पुलिस के कहने पर ट्रैफिक व्यवस्था को देखते हुए इसे 1 दिसंबर को किया गया।”
– ”मुझे बेहद खेद है कि पॉलिटिकल फस्ट्रेशन में आर्मी की एक्सरसाइज को घसीटा जा रहा है।”
नेशनल इमरजेंसी लगाने की तैयारी थी- टीएमसी
– राज्यसभा में टीएमसी सदस्य सुखेंदु शेखर राय ने बंगाल में आर्मी तैनाती का मुद्दा उठाया।
– डिफेंस मिनिस्टर (स्टेट) ने इस पर सफाई पेश की। पर विपक्ष इस पर राजी नहीं था।
– वेल में आकर विपक्ष के सांसद नारेबादजी करने लगे। इस पर उपसभापति ने सदस्यों को एक्शन लेने की चेतावनी दी।
– फिर टीएमसी सदस्य राय ने कहा, ”मिनिस्टर सदन को मिसलीड कर रहे हैं।” इस दौरान एक बीजेपी सदस्यों को उन्होंने शट-अप भी कह दिया।
बंगाल में टोल नाकों पर आर्मी की तैनाती से ममता नाराज, कहा- तख्ता पलटने की साजिश
– गुरुवार देर रात मुख्यमंत्री ममता ने एक के बाद एक कई ट्वीट कर टोल नाकों पर आर्मी की तैनाती पर नाराजगी जताई। उनका कहना था कि राज्य के सभी टोल टैक्स प्वाइंट्स पर आर्मी के जवानों को तैनात किया जा रहा है।
– कहा कि ऐसा करने से पहले केंद्र सरकार को राज्य की परमिशन लेने की जरूरत थी।
– नाराज ममता गुरुवार रात से अभी तक ऑफिस में हैं, वो घर नहीं गई हैं। पिछली रात से वह नबोन्नो (राज्य सचिवालय) में हैं।
17 जिलों में आर्मी के जवानों की तैनाती का आरोप
– ममता बनर्जी और वेस्ट बंगाल पुलिस ने आरोप लगाया कि राज्य के 17 जिलों में हाईवे और अहम जगहों पर आर्मी तैनात कर दी गई है।
– इसके लिए न राज्य सरकार से परमिशन ली गई और न ही बताया गया।
– ममता ने कहा, ”यहां तक कि मॉक ड्रिल से पहले आर्मी राज्य सरकार को बताती है, लेकिन इस बार ऐसा कुछ नहीं हुआ।”