माेदी आज पहुंचेंगे सिलिकॉन वैली, क्या है FB, एप्पल और गूगल के CEO की इच्छा?

न्यूयॉर्क। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को सिलिकॉन वैली पहुंचेंगे। वे एप्पल के सीईओ टिम कुक, फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग और गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई से सैन फ्रांसिस्को में मिलेंगे। मोदी से पहले 1978 में मोरारजी देसाई बतौर पीएम बे एरिया गए थे। वहीं, जुकरबर्ग फेसबुक में दूसरी बार किसी देश के नेता के साथ टाउनहॉल करेंगे। इससे पहले जुकरबर्ग ने अप्रैल 2011 में ओबामा के साथ टाउनहॉल किया था। वहीं, गूगल के नए सीईओ सुंदर पिचाई ने हाल ही में कहा था कि वे मोदी से मुलाकात का इंतजार कर रहे हैं। आइए जानते हैं क्या है FB, एप्पल और गूगल के CEO की इच्छा?
आज और कल, सब करेंगे मन की बात
* फेसबुक के जकरबर्ग की इच्छा: भारत में इंटरनेट का प्रसार हो। इस काम में फेसबुक मदद का प्रस्ताव दे सकता है। भारत में 12.5% लोगों के पास ही इंटरनेट सुविधा है। इसके अलावा गोपनीय जानकारी मांगने का मुद्दा उठा सकते हैं। टैक्स व्यवस्था की दिक्कतों को दूर करने और भ्रष्टाचार सफाई पर बात हो सकती है।
मोदी की इच्छा: जकरबर्ग भारत में शिक्षा और ई-गवर्नेंस के क्षेत्र में सहयोग करें। कंपनी सीओओ शेरिल सैंडबर्ग ने इसके संकेत दिए थे। ऐसा होता है तो भारत में शिक्षा की बुनियादी दिक्कतों को दूर करने में बड़ी सफलता मिल सकती है। मोदी एजुकेशन, हेल्थ सेक्टर में इन्वेस्टमेंट का ऑफर दे सकते हैं।
* एपल कंपनी के टिम कुक की इच्छा: एप्पल भारत में प्रोड्क्ट्स को नया लुक देने वाली यूनिट लगाना चाहते हैं। लेकिन भारत की इंडस्ट्रियल पॉलिसी इसकी इजाजत नहीं देती। एपल सीईओ मोदी से पॉलिसी में बदलाव की मांग कर सकते हैं। भारत में पैर जमाकर एपल भारत और एशिया के दूसरे देशों में सैमसंग जैसी कंपनी को टक्कर देना चाहती है।
मोदी की इच्छा: एपल भारत में मैन्युफैक्चरिंग यूनिट लगाए। एपल के लिए भारत दुनिया का बड़ा बाजार है। इसी साल तीसरी तिमाही में भारत में आईफोन बिक्री भारत में 93% बढ़ी है। जबकि चीन में 87% बढ़ी है।
* गूगल के सुंदर पिचाई की इच्छा: गूगल स्ट्रीट व्यू कारों को भारत में चलाना चाहता है। इसके लिए उसने सरकार के पास आवेदन भी कर रखा है। सुंदर पिचाई को उम्मीद है कि मोदी मुलाकात में प्रोजेक्ट को मंजूरी दे सकते हैं।