मिस्र में सेना और ISIS में घमासान: 100 आतंकी ढेर, 17 सेना के जवान भी मारे गए

काहिरा। आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) के आतंकियों ने मिस्र के सिनाई प्रांत में सेना की कई चौकियों और पुलिस स्टेशनों पर हमले किए। इस दौरान सेना और आतंकियों के बीच कई घंटे तक चले संघर्ष में 100 से ज्यादा आतंकी मारे गए। वहीं, सेना के चार अधिकारियों समेत 17 सैनिकों की भी मौत हो गई। 13 जवान घायल बताए जा रहे हैं। इस्लामिक स्टेट ने टि्वटर अकाउंट पर सिनाई में किए गए हमलों की जिम्मेदारी ली है।
आतंकियों ने सेना की 15 चौकियों को बनाया निशाना
सेना ने बताया कि आतंकवादियों ने क्षेत्र की 15 चौकियों पर हमला किया और तीन आत्मघाती हमलों को भी अंजाम दिया। मिस्र की सेना के प्रवक्ता ब्रिगेडियर जनरल मोहम्मद समीर ने स्टेट टीवी को बताया कि स्थिति सेना के नियंत्रण में है। हालांकि, इलाके से सभी आतंकवादियों को खदेड़ने तक इनके खिलाफ सेना का अभियान जारी रहेगा। यह इस सप्ताह हुआ दूसरा बड़ा आतंकवादी हमला था।
सेना ने कड़ी की सुरक्षा
सेना ने सिनाई प्रांत के इलाके और इजरायल से लगती सीमा गाजा पट्टी और स्वेज नहर के अहम इलाकों में एफ-16 जेट विमानों और अपाचे हेलिकॉप्टरों को तैनात कर दिया है। सुरक्षा सूत्रों ने बताया कि आतंकियों की शेख जुवेद प्रांत के पूरी तरह से घेरने की कोशिश थी, जिसे सेना ने नाकाम कर दिया। आतंकियों ने शेख जुवेद शहर में पुलिस स्टेशन को घेर लिया था और इसके चारों ओर बम लगा दिए थे। इसके अलावा, शेख जुवेद और अल जुहोर आर्मी कैंप तक सड़कों पर बम प्लांट किए थे। उन्होंने सेना के दो आर्म्ड व्हीकल, हथियार और गोला-बारूद भी कब्जे में ले लिए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *