मुख्यमंत्री श्री चौहान ने शहीद स्व. मनीष विश्वकर्मा के पार्थिव शरीर पर पुष्प-चक्र अर्पित कर श्रद्धांजलि दी

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने राजगढ़ जिले के वीर सैनिक श्री मनीष विश्वकर्मा (कारपेंटर) के पार्थिव शरीर पर थ्री ईएमई आर्मी सेंटर हॉस्पिटल परिसर, भोपाल में पुष्प-चक्र अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। महार रेजिमेंट के जवान श्री मनीष गत शुक्रवार को जम्मू कश्मीर के बारामूला के पास सैन्य संघर्ष में गंभीर रूप से घायल हो गए थे। उपचार के बाद उन्हें बचाया नहीं जा सका। उनका पार्थिव शरीर थ्री ईएमई आर्मी सेंटर, भोपाल में पहुंचने पर आज सेना की टुकड़ी ने मुख्यमंत्री श्री चौहान की उपस्थिति में दिवंगत शहीद को गार्ड आफ ऑनर प्रदान किया।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि शहीद परिवार को एक करोड़ की सम्मान निधि प्रदान करने के साथ ही परिवार के एक सदस्य को उनकी सहमति पर शासकीय सेवा में नियुक्ति दी जाएगी। शहीद श्री मनीष के गृह नगर में उनकी प्रतिमा की स्थापना की जाएगी। इसके अलावा किसी संस्था का नाम शहीद के नाम पर किया जाएगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि दिसंबर 2019 में विवाह सूत्र में बंधे श्री मनीष ने राष्ट्र के लिए शहादत दी। उनके पिता श्री सिद्धनाथ जी और माता सुश्री पुष्पा देवी के चरणों में प्रणाम करता हूँ जो उन्होंने ऐसे सपूत को जन्म दिया। शहीद स्व. मनीष का यह सर्वोच्च बलिदान अमूल्य है । खुजनेर और मध्यप्रदेशवासियों को उन पर गर्व है। स्व. मनीष के भाई श्री हरीश भी सेना में कार्यरत हैं।

थ्री ईएमई आर्मी सेंटर में कलेक्टर, भोपाल श्री अविनाश लवानिया, ब्रिगेडियर श्री आशुतोष शुक्ला, कमांडेंट डॉ. अजोय मेनन, मेजर शेख और सेना के अन्य अधिकारी भी उपस्थित थे। राजगढ़ जिले के खुजनेर में शहीद श्री मनीष का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार होगा।