मुलायम के घर हुई नीतीश-लालू की बैठक, रामगोपाल बोले- बिहार में होगा गठबंधन

नई दिल्ली. सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव के दिल्ली स्थित आवास पर लालू यादव और नीतीश कुमार के बीच अहम बैठक खत्म हो गई है। बैठक खत्म होते ही सपा के वरिष्ठ नेता रामगेपाल ने इस बात का एलान किया कि जदयू-राजद के बीच बिहार में आगामी विधानसभा चुनाव के दौरान गठबंधन होगा। दोनों दलों के बीच गठबंधन और सीटों पर चर्चा के लिए छह सदस्यों की एक कमेटी बनाई गई है। सपा नेता ने कहा कि बिहार में सीएम कैंडिडेट को लेकर कोई विवाद नहीं है। रविवार को नई दिल्ली में इससे पहले नीतीश कुमार ने दिल्ली में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात की। राहुल गांधी से मिलने के बाद नीतीश कुमार ने कहा कि मुलाकात अच्छी रही। लेकिन लालू यादव ने इस भेंट पर कोई कमेंट करने से इनकार कर दिया। इस बीच, नीतीश ने ‘मैंगो पॉलिटिक्स’ भी शुरू कर दी है। नीतीश अपने साथ बिहार के मशहूर जर्दालू आमों के एक हजार पैकेट लेकर शनिवार को दिल्ली पहुंचे। बताया जा रहा है कि नीतीश जर्दालू आम दिल्ली में अपने राजनीतिक दोस्तों के बीच बांटेंगे।
सीटों के बंटवारे पर हुई बात
मुलायम सिंह के आवास पर हुई बैठक में बिहार में चुनाव लड़ने के लिए सभी पार्टियों के बीच सीट बंटवारे के फार्मूले पर सहमति बनने की उम्मीद जताई गई। सूत्रों के मुताबिक बिहार विधानसभा में 243 सीटें हैं। सीट बंटवारे के एक फॉर्मूले के तहत आरजेडी और जेडीयू सौ-सौ सीटों पर चुनाव लड़ सकते हैं, जबकि कांग्रेस, माकपा, भाकपा और एनसीपी को 43 सीटें दी जा सकती हैं। गौरतलब है कि जेडीयू अध्यक्ष शरद यादव ने गुरुवार को कहा था कि जेडीयू और आरजेडी दोनों कांग्रेस के साथ मिलकर राज्य में विधानसभा चुनाव लड़ेंगे, ताकि बीजेपी को चुनौती दे सकें।
रघुवंश ने की थी सोनिया से अपील
नीतीश कुमार को जेडीयू-आरजेडी गठबंधन का मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित करने पर आरजेडी उपाध्यक्ष रघुवंश प्रसाद सिंह ने आपत्ति जताई थी। रघुवंश प्रसाद सिंह ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से अपील की थी कि इसका समाधान निकालें और बिहार में बीजेपी विरोधी गठबंधन के लिए काम करें।
सुल्तानगंज से आए हैं आम
नीतीज जो जर्दालू आम लेकर दिल्ली पहुंचे हैं, वे बिहार के सुल्तानगंज के महेशी की मधुवन नर्सरी के हैं। बिहार के मुख्यमंत्री की तरफ से 2009 को छोड़कर 2007 से हर साल ये आम राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री सहित अति विशिष्ट व्यक्तियों को भेजे जाते हैं। इस साल मधुवन नर्सरी में 1300 पैकेट आम तैयार किए गए हैं। हर पैकेट में 20 जर्दालू आम होते हैं। 1300 में से एक हजार पैकेट दिल्ली और 300 पैकेट पटना भेजे गए हैं।