मैनिट: विदेशी छात्रों को HIV के साथ ही देना होगा HIB का भी सर्टिफिकेट

भोपाल। मौलाना आजाद राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान (मैनिट) में एडमिशन लेने वाले विदेशी छात्रों को इस बार एचआईवी के साथ ही हैमोफिलस इन्फ्लूएंजा टाइप-बी (एचआईबी) बीमारी से ग्रस्त नहीं होने का भी मेडिकल सर्टिफिकेट देना होगा। इस बार मैनिट संक्रमण से फैलने वाली अन्य बीमारियों को लेकर भी विशेषतौर पर सावधानी बरत रहा है।

मैनिट ने डायरेक्ट एडमिशन ऑफ स्टूडेंट्स अब्रॉड (डासा) योजना के तहत एडमिशन लेने वाले विदेशी छात्रों के लिए सर्कुलर जारी कर जरूरी डाक्यूमेंट्स के साथ ही एचआईवी और एचआईबी का मेडिकल सर्टिफिकेट भी जमा करने को कहा है। यह निर्णय फ्लू जैसी बीमारियों के लगातार बढ़ते प्रकोप को देखते हुए लिया गया है। एचआईबी बैक्टेरिया कोल्ड या फ्लू वायरस की तरह बीमार व्यक्ति से अन्य में फैलता है। मानव संसाधन विकास मंत्रालय की योजना डासा के तहत विदेशी मूल के छात्रों को देश के सभी एनआईटीज सहित अन्य केंद्रीय अनुदान प्राप्त संस्थानों और प्रमुख इंजीनियरिंग संस्थानों में सीधे एडमिशन की व्यवस्था की गई है।

मैनिट में है यूजी की 98 और पीजी की 106 सीटें
इस योजना के तहत अंडर ग्रेजुएट कोर्स के लिए आवेदन करने वाले छात्रों को एसएटी स्कोर और पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स के लिए जीआरई या जीमेट जनरल टेस्ट स्कोर के आधार पर संस्थान आवंटित किए जाते हैं। मैनिट में डासा के लिए यूजी की 98 और पीजी की 106 सीटें आरक्षित हैं। अधिकारियों के अनुसार विदेशी मूल के छात्रों में से कई उन देशों के भी होते हैं जहां एचआईवी का प्रकोप ज्यादा है। वहीं, पिछले कुछ सालों में जिस तेजी से दुनिया भर में हैमोफिलस इन्फ्लूएंजा टाइप-बी बैक्टेरिया पीड़ितों की संख्या बढ़ी है उसे देखते हुए जरूरी हो गया है कि छात्रों को इसके संक्रमण में आने से बचा कर रखा जाए।

शरीर के कई हिस्सों में फैलाता है इंफेक्शन
एचआईबी बैक्टेरिया ब्रेन, स्पाइनल कॉर्ड, फेफड़ों के साथ ही दिल के आसपास भी इंफेक्शन फैलता है। पीड़ित को आधा दर्जन से ज्यादा बीमारी होने की संभावना बढ़ जाती है। डायरेक्टर प्रो. अप्पू कुटटन के अनुसार एचआईवी और एचआईबी का मेडिकल सर्टिफिकेट किसी प्रतिष्ठित लैब से ही जारी होने पर इसे मान्य किया जाएगा। इस योजना के तहत होने वाले एडमिशन के लिए फीस सहित अन्य सभी जानकारी पोर्टल पर अपलोड कर दी गई है। एडमिशन की प्रक्रिया 20 से 30 जुलाई के बीच पूरी कर ली जाएगी।