मोदी का तंज- नामदार पर हार का ठीकरा ना फूटे इसलिए कांग्रेस ने पित्रोदा-मणिशंकर को उतारा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को बिहार के पालीगंज और झारखंड के देवघर में जनसभाओं को संबोधित किया। देवघर में उन्होंने कांग्रेस नेता सैम पित्रोदा और मणिशंकर अय्यर के बयानों को लेकर राहुल गांधी पर निशाना साधा। मोदी ने कहा, लोकसभा चुनाव की हार का ठीकरा नामदार पर ना फूटे इसलिए कांग्रेस ने पित्रोदा और मणिशंकर को मैदान में उतार दिया है। 

मोदी ने कहा- 23 मई को आने वाले नतीजों को कांग्रेस भी समझ चुकी है। उसने नतीजों की तैयारी शुरू कर दी है। कांग्रेस तैयारी कर रही है हार के बाद उसका ठीकरा पार्टी में किसके सर फोड़े। नामदार को बचाने के लिए क्या किया जाए, इसके लिए एक्सरसाइज चल रही है।

नामदार के दो करीबियों ने बैटिंग शुरू की- मोदी

प्रधानमंत्री ने कहा, ”नामदार परिवार के दो सबसे करीबी दरबारियों ने अपनी तरफ से बैटिंग शुरू कर दी। पित्रोदा की ओर इशारा करते हुए मोदी ने कहा, ”एक बल्लेबाज तो नामदार के गुरू हैं, जिन्हें पहले मैदान में उतारा गया। उन्होंने सिखों का मजाक उड़ाते हुए कहा कि नरसंहार हुआ तो हुआ।” मणिशंकर का नाम न लेते हुए उन्होंने कहा, ”दूसरे बल्लेबाज गुजरात चुनाव के बाद मैदान से बाहर थे। वो भी दो दिन से मैदान में हैं। जमकर मुझे गालियां दे रहे हैं। कांग्रसे में नाखून काटकर शहीद होने की होड़ मची है।”

मोदी ने कहा- महामिलावटियों को सिर्फ परिवार की चिंता

पालीगंज में उन्होंने कहा कि अब तक के चुनाव से महामिलावटियों के सपने पर पानी फिर गया। उन्हें सिर्फ परिवार की चिंता है। नामदार या बिहार के भ्रष्ट परिवार को अगर गरीब की चिंता होती तो घोटाले करने से पहले इनके हाथ कांपते। सैकड़ों एकड़ जमीन हड़पने के बाद भी जमीन से कट गए, इनकी आंखें सिर्फ चोरी का माल पाने के लिए खुलती हैं।

‘सभी सर्वे वालों ने कह दिया कि एनडीए की सरकार बन रही’

मोदी ने कहा, ”4-5 चरण के चुनाव के बाद सभी सर्वे वालों ने कह दिया है कि एनडीए की सरकार बन रही है। फिर क्यों मोदी सातवें चरण तक मेहनत कर रहा है? महामिलावटी दिल्ली में एक मजबूर सरकार बनाने का सपना पाले थे, लेकिन अब उनकी उम्मीदों पर पानी फिर गया। उनके नकारात्मक प्रचार में दो ही मुद्दे हैं। एक मोदी की छवि खराब करो और दूसरा मोदी को हटाओ।”

महामिलावटियों के लिए गरीब सिर्फ एक रटा-रटाया शब्द
उन्होंने कहा कि महामिलावटी लोगों ने हमेशा परिवार के स्वार्थ को राष्ट्र रक्षा से ऊपर रखा। कांग्रेस का नामदार परिवार हो या फिर बिहार का भ्रष्ट परिवार। इनकी संपत्ति आज हजारों करोड़ रुपए में है। ये पैसे कहां से आए? अगर गरीब की परवाह होती तो भ्रष्टाचार करने से पहले इनके हाथ कांपते। गरीब इनके लिए सिर्फ एक रटा-रटाया शब्द मात्र है। ये लोग हमेशा प्रशंसा सुनने के आदी हैं। दरबारियों की पूरी फौज गुणगान करके इनका अहंकार बढ़ाती रहती है।

भारत आतंकियों को खत्म करने के लिए सुदर्शन चक्र धारण करेगा
मोदी ने कहा कि महामिलावटियों ने देश की सुरक्षा को ताक पर रख दिया था। 2014 से पहले आतंकी कहीं भी आतंक फैलाते थे, लेकिन कांग्रेस के नेता सिर्फ बयान देते रहते थे। आपके चौकीदार ने पाकिस्तान से मिल रहे घाव को सहने से इनकार कर दिया। सपूतों को खुली छूट दी और उन्होंने आतंकियों को ऐसे मारा, जैसे कि भूत-प्रेत को चोटी पकड़कर मारते हैं। जरूरत पड़ी तो भारत भगवान कृष्ण की तरह आतंकियों के खात्मे के लिए सुदर्शन चक्र धारण करेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *