मोदी की मानसिकता दलित विरोधी, समावेशी भारत के लिए संघर्ष करेगी कांग्रेस : राहुल

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी आज दिल्ली के जंतर मंतर पर दलित संगठनों के प्रदर्शन में पहुंचे. राहुल गांधी ने सीधे प्रधानमंत्री को निशाने पर लेते हुए कहा कि नरेंद्र मोदी, बीजेपी और आरएसएस चाहते हैं कि चाहे शिक्षा हो, प्रगति हो उसमें दलितों की जगह नहीं होनी चाहिए. राहुल गांधी ने कहा कि जिन प्रदेशों में बीजेपी की सरकार है वहां दलितों को दबाया जाता है, कुचला जा रहा है. इस मौके पर राहुल गांधी ने कहा कि मोदी दलित विरोधी हैं और 2019 में सब मिलकर बीजेपी को हराएंगे.

आपको बता दें कि SC-ST अत्याचार विरोधी कानून को संविधान की 9वीं अनुसूचि में शामिल किए जाने को लेकर प्रदर्शन कर रहे दलितों ने बंद बुलाया था. जंतर मंतर पर हुए इस प्रदर्शन में राहुल गांधी के अलावा लेफ्ट नेता सीताराम येचुरी, सुधाकर रेड्डी समेत कई और नेता भी पहुंचे.

राहुल गांधी ने क्या कहा?
पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए राहुल गांधी ने कहा, ”मोदी जी जब मुख्यमंत्री थे तब उन्होंने किताब में लिखा कि दलितों को सफाई करने में आनंद मिलता है. नरेद्र मोदी की सोच है कि देश के भविष्य में दलितों की कोई जगह नहीं होनी चाहिए. नरेंद्र मोदी, बीजेपी और आरएसएस चाहते हैं कि चाहे शिक्षा हो, प्रगति हो दलितों की जगह नहीं होनी चाहिए.”

राहुल गांधी ने आगे कहा, ”हमारी सरकार, हमारे प्रधानमंत्री राजीव गांधी एट्रोसिटी एक्ट लेकर आए. उस एक्ट को मोदी जी ने रद्द होने दिया, उसे खत्म किया. जिस जज ने एक्ट पर हमला किया उसे मोदी सरकार ने प्रमोशन दिया और ईनाम दिया. एट्रोसिटी एक्ट कांग्रेस पार्टी लायी थी और हम इसकी रक्षा करेंगे.”

राहुल गांधी ने कहा, ”जहां भी दलित आगे बढ़ने की कोशिश करते हैं, रोहित बेमुला की हत्या की जाती है. जहां भी बीजेपी की सरकार है वहां दलितों को मारा जाता है, पीटा जाता है, दबाया जाता है, कुचला जाता है. हम ऐसी सरकार नहीं चाहते हैं. इस देश में चाहे दलित हो, अल्पसंख्यक हो या आदिवासी हो सबके लिए जगह होनी चाहिए.”

मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए राहुल गांधी ने कहा, ”नरेंद्र मोदी को हमने दिखा दिया कि आप दलितों के खिलाफ खड़े नहीं हो सकते. अगर आप ऐसा करोगे तो पूरा देश आपके खिलाफ खड़ा हो जाएगा. उनकी सोच दलित विरोधी है. हिंदुस्तान के प्रधानमंत्री के दिल में, दिमाग में और मन में दलितों के लिए कोई जगह नहीं है. वो दलितों तो दबाना और कुचलना चाहते हैं.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *