मोदी की रैली में भगदड़ जैसी स्थिति, कई घायल

 
मोदी जब भाषण दे रहे थे उस समय भारी भीड़ के कारण कई लोग एक-दूसरे के साथ धक्‍का-मुक्‍की करने लगे थे.
इसके बाद बाद पीएम मोदी ने उन्‍हें धक्‍का-मुक्‍की नहीं करने के लिए कहा. उन्‍होंने कहा कि कार्यकर्ताओं के उत्‍साह से यह जगह कम पड़ गई और मैदान छोटा पड़ गया. इससे लोगों को असुविधा हो रही है. आप लोग धक्‍का-मुक्‍की न करें. पीएम मोदी लोगों को समझाते रहे कि आप जहां हैं, वहां रहें.

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि कई महिलाएं और बच्चे घायल हो गये. दरअसल जब मोदी मटुआ समुदाय की रैली को संबोधित कर रहे थे, तब आयोजन स्थल के बाहर खड़े उनके सैकड़ों समर्थकों ने रैली ग्राउंड के अंदरुनी हिस्से में आने की कोशिश की जिससे भगदड़ जैसी स्थिति उत्पन्न हो गयी.

मोदी ने उन लोगों से अपनी ही जगह पर बने रहने और आगे आने की कोशिश नहीं करने का आह्वान कर भीड़ को शांत करने का प्रयास किया. लेकिन उनके आग्रह का कोई असर नहीं पड़ा एवं समर्थक मंच के सामने खाली जगह में कुर्सियां फेंकने लगे ताकि अंदरुनी हिस्से में जगह बन पाए. जबकि यह जगह महिला समर्थकों के लिए निर्धारित थी.
इस हो-हल्ला के बाद मोदी ने अचानक यह कहते हुए अपना भाषण बंद कर दिया कि उन्हें दूसरी रैली में जाना है. पुलिस अधिकारी के अनुसार भगदड़ जैसी स्थिति के दौरान कई महिलाएं और बच्चे बेहोश हो गये. उन्हें प्राथमिक उपचार के लिए अस्पताल ले जाया गया.

इस घटना से मोदी की पिछले साल की 16 जुलाई की रैली याद आती है, जब पश्चिम मिदनापुर जिले में मंच गिर गया था और कई लोग घायल हो गये थे.

पीएम मोदी की रैली से पहले टीएमसी के लोगों ने बैनर-पोस्टर फाड़े. दूसरी तरफ ठाकुरनगर में मोदी को सुनने के लिए आपार भीड़ जुटी. भीड़ को संभालना मुश्किल था ऐसे में पीएम मोदी ने कम समय में ही अपना भाषण समाप्त कर दिया. पीएम मोदी की रैली पर ईटीवी भारत ने पार्टी प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन से बातचीत की.
पीएम मोदी ने ठाकुरनगर रैली में कहा कि-  क्रांतिकारियों की धरती को नमन करता हूं. मोदी ने आगे कहा ये भीड़ देख समझ आ रहा है कि दीदी (ममता बनर्जी) हिंसा पर क्यों उतर आईं.
 पीएम मोदी ने पश्चिम बंगाल  रैली के जरिए PM मोदी ने साधा ममता बनर्जी पर निशाना. उन्होंने बजट पर बोलते हुए कहा कि  बजट से 12 करोड़ किसानों को फायदा होगा. उन्होंने सीएम ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए कहा कि पश्चिम बंगाल के हालात बहुत ही खराब है.
पीएम मोदी कल पेश हुए अंतरिम बजट पर बोलते हुए कहा कि यह तो सिर्फ एक शुरुआत है, मुख्य बजट तो लोकसभा के चुनाव के बाद आएगा जिसमें युवाओं, किसानों और समाज के अन्य वर्गों को पर विशेष ध्यान दिया जाएगा.
उन्होंने कहा कि जिसने कर्ज लिया उसकी 2.5 लाख की माफी का वादा किया गया था और माफी हुई केवल रुपये 13 की. ये कहानी मध्य प्रदेश की है. वहीं राजस्थान में सरकार ने तो हाथ ही खड़े कर दिए हैं.
मोदी बोले कल बजट में जो घोषणाएं की गई है उनसे देश के 12 करोड़ से ज्यादा छोटे किसान परिवारों, 30-40 करोड़ श्रमिकों, मजदूर भाई-बहनों और 3 करोड़ से अधिक मध्यम वर्ग के परिवारों को सीधा लाभ मिलेगा.
पीएम मोदी ममता पर निशाना साधते हुए कहा कि ये देश का दुर्भाग्य रहा कि आज़ादी के बाद भी अनेक दशकों तक गांव की स्थिति पर उतना ध्यान नहीं दिया गया, जितना देना चाहिए था. यहां पश्चिम बंगाल में तो स्थिति और भी खराब है.
प्रधानमंत्री कार्यालय से शुक्रवार को जारी बयान में बताया गया कि पीएम मोदी हिजली- नारायणगढ़ के बीच तीसरी रेल लाइन भी देश को समर्पित करेंगे. साथ ही वे दुर्गापुर में एक जनसभा को भी संबोधित करेंगे.

पीएम मोदी सीमावर्ती उत्तर 24 परगना जिला और औद्योगिक नगर दुर्गापुर में दो रैलियों के साथ आगामी लोकसभा चुनावों के लिए पश्चिम बंगाल में भाजपा के प्रचार अभियान की शुरुआत करेंगे.
ठाकुरनगर में होनेवाली रैली में मतुआ समुदाय की अच्छी खासी आबादी है.

बयान में कहा गया है कि प्रधानमंत्री मोदी शनिवार को पश्चिम बंगाल के दुर्गापुर दौरे में 294 किलोमीटर लंबे अंडाल-सेंथिया-पाकुर-मालदा तथा खाना-सेंथिया रेल सेक्‍शन के विद्युतीकरण को राष्‍ट्र को समर्पित करेंगे.

इसमें कहा गया है कि इस खंड के विद्युतीकरण से उत्तर और उत्तर पूर्व भारत में कोयले, पत्थर के चिप्स और गिट्टी के परिवहन में आसानी होगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *