मोदी के पठानकोट दौरे से पहले कड़ी सिक्युरिटी, दो एयरफोर्स सर्विसमैन हिरासत में

नई दिल्ली. नरेंद्र मोदी शनिवार को पठानकोट एयरबेस का दौरा करेंगे जहां पिछले हफ्ते पाकिस्तानी आतंकियों ने हमला किया था। उनके साथ आर्मी और एयरफोर्स के चीफ भी मौजूद रह सकते हैं। दौरे की वजह से यहां सिक्युरिटी कड़ी कर दी गई। दूसरी ओर, हमले की जांच कर रही एनआईए ने एयरफोर्स के दो सर्विसमैन को हिरासत में लिया है।
कितने बजे पहुंचेंगे मोदी…
– पीएम 11 बजे पहुंचेंगे। सिक्युरिटी की वजह से मोदी के दौरे के बारे में ज्यादा डीटेल्स नहीं दी गईं हैं।
– हालांकि, कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि पीएम बॉर्डर एरिया का एरियल सर्वे भी कर सकते हैं।
आतंकियों को लोकल सपोर्ट तो नहीं मिला था?
– हमले की जांच कर रहीं सेंट्रल एजेंसीज ने एयरफोर्स के दो सर्विसमैन को पूछताछ के लिए गुरुवार रात हिरासत में ले लिया। एजेंसियों को शक है कि हमले के दौरान आतंकियों को लोकल सपोर्ट हासिल हुआ होगा।
– बताया जाता है कि पठानकोट हमले से पहले ही इंटेलिजेंस एजेंसियां इन दोनों लोगों पर नजर रख रहीं थीं।
– जांच में सामने आया कि ये दोनों ही लोग दो मोबाइल सिम का इस्तेमाल कर रहे थे।
इन दो लोगों पर शक क्यों?
– सूत्रों के मुताबिक, जिन दो लोगों को हिरासत में लिया गया है, उनके कॉल रिकॉर्डस चेक किए गए थे। इसमें सामने आया कि ये दोनों जासूसी मामले में गिरफ्तार एयरफोर्स के पूर्व टेक्निशियन रंजीत केके. से बात करते रहे थे। रंजीत को 28 दिसंबर को आईएसआई के लिए जासूसी के आरोप में गिरफ्तार किया गया था।
डिफेंस मिनिस्टर ने किया था दौरा, लिया था पाकिस्तान का नाम…
– 5 जनवरी को डिफेंस मिनिस्टर मनोहर पर्रिकर पठानकोट गए थे। उस दौरान ऑपरेशन खत्म नहीं हुआ था।
– पर्रिकर ने कहा था- ”आतंकियों के पास से पाकिस्तान में बना मटेरियल मिला है। जांच जारी है।”
– ”आतंकी एके 47, पिस्टल, नाइट विजन और 40 से 50 किलो बुलेट्स लेकर आए थे।”
– ”कुछ मशीनरी के पाकिस्तान से जुड़े होने के संकेत मिल रहे हैं। 2 आतंकियों की लाशें बुरी तरह जली हुई हैं।”
– पाकिस्तान और आतंकियों को क्या रिस्पॉन्स दिया जाएगा? इसके जवाब में उन्होंने कहा, ”क्या जवाब दिया जाएगा, यह मैं यहां नहीं बताऊंगा।”
एयरबेस में कैसे घुसे थे आतंकी?
– आतंकी मेन गेट के रास्ते आए। बताया जा रहा है कि आर्मी की वर्दी में होने के कारण उन्होंने घुसपैठ कर ली।
– चारों आतंकियों ने दो लेयर की सिक्युरिटी तोड़ दी और ग्रेनेड से हमला किया।
– दो आतंकी मारे गए। बाकी आतंकी एयरफोर्स के टेक्निकल एरिया और रेजिडेंशियल एरिया में चले गए।
कितने घंटे चला था एनकाउंटर?
– डिफेंस मिनिस्टर ने बताया था, ”एनकाउंटर सिर्फ 36 से 38 घंटे चला। तड़के (शनिवार) 3.30 बजे ऑपरेशन शुरू हुआ था और अगले दिन 7.30 बजे खत्म हुआ।”
– ”कैम्पस में तीन हजार सिविलियन भी हैं। इतना आसान नहीं है कि इस कैम्पस को सेफ रखना था।”
किसने ली थी हमले की जिम्मेदारी…
– यूनाइडेट जिहाद काउंसिल (UJC) ने कहा है कि हमला उनकी तरफ से किया गया है।
– सैयद सलाहुद्दीन UJC का चीफ है।
– इसमें हिजबुल मुजाहिदीन सबसे बड़ा संगठन है।
– जैश-ए-मोहम्मद भी इसका हिस्सा।
– काउंसिल का कहना है कि पठानकोट में हमला कश्मीरी आतंकियों के ग्रुप ने किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *