मोदी के 3600 असेसमेंट में राजस्थान के 11 आईएएस ‘फेल’, दो ही हुए पास

जयपुर. केंद्र में सचिव या समकक्ष पद के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हालिया 360 डिग्री असेसमेंट टेस्ट में 1984 और 1985 बैच के प्रदेश के 11 सीनियर आईएएस फेल हो चुके हैं। टेस्ट में 1985 बैच के मात्र दो ही आईएएस बीएन शर्मा और ऊषा शर्मा पास हो पाए। ये दोनों ही अभी केंद्र में सेवाएं दे रहे हैं। इससे पिछले बैच में से किसी अफसर को कामयाबी नहीं मिल पाई। इससे पहले 1981 बैच की गुरुजोत कौर, 1983 बैच के डीबी गुप्ता, सीमा बहुगुणा, सुभाष चंद गर्ग और उमेश कुमार टेस्ट में पास हो पाए थे। ऐसे में भविष्य में राज्य की ब्यूरोक्रेसी की केंद्र के महत्वपूर्ण पदों पर भूमिका न के बराबर होने की आशंका खड़ी हो गई है।
मोदी सरकार सीनियरिटी और संबंधों के दम पर केंद्र में सचिव बनने की परंपरा को पूरी तरह खत्म कर रही है। इसी लिए अब केंद्र में केवल सचिव पद के लिए 360 डिग्री असेसमेंट यानी समग्र टेस्ट से गुजरने की प्रक्रिया शुरू की गई है। इसके लिए केंद्र ने रिटायर आईएएस अफसरों की टीम लगाई है। हाल ही में कराए गए असेसमेंट में 1984 और 1985 बैच के 11 आईएएस भी मोदी की टेस्ट में असफल रहे। इसमें 1984 बैच के मुकेश शर्मा, प्रीतम सिंह, रश्मि प्रियदर्शनी और 1985 बैच के खेमराज, राजीव स्वरूप, जेसी मोहंती, रवि शंकर श्रीवास्तव, सुदर्शन सेठी, गिरिराज सिंह, किरन सोनी गुप्ता और मधुकर गुप्ता शामिल है। पहले इसमें 1982 बैच के विपिन चंद शर्मा, एनसी गोयल और 1983 बैच के ओपी सैनी फेल हो चुके।
यह है 360 डिग्री असेसमेंट
पहले केन्द्र में सचिव और समकक्ष पदों के लिए केवल दस साल की एसीआर देखी जाती थी। जिसके आधार पर सेवारत सीनियर अफसरों की कमेटी एन्पैनलमेंट करती थी। मोदी ने सत्ता संभालने के बाद व्यवस्था में बदलाव किया। अब ओवर ऑल सर्विस, सभी एसीआर, सीवीसी क्लियरेंस के साथ अफसरों की इन्टीग्रिटी और उनके बारे में पूरा फीडबैक लिया जाता है। कमेटी में शामिल पांच रिटायर्ड अफसर हर आईएएस के बारे में छवि और प्रदर्शन का फीडबैक उन अफसरों से सीधे सम्पर्क कर लेते हैं, जो उनके साथ काम कर चुके होते हैं।
केंद्र में हमारी भागीदारी न के बराबर, केवल 13 अफसर
64- अफसरों की तैनाती केंद्र में हो सकती है राज्य कोटे से केंद्रीय प्रतिनियुक्ति के तहत। मात्र 13 अफसर ही सेवारत।
76- फीसदी अधिकारी हैं केरल कोटे से सर्वाधिक। 71.6% हिमाचल प्रदेश कोटे से। इसके बाद असम, बिहार व यूपी के अफसर।
दिल्ली में तैनात राज्य के अफसर
राजीव महर्षि, राकेश श्रीवास्तव, सीमा बहुगुणा, प्रीतम सिंह, बीएन शर्मा, उषा शर्मा, किरन सोनी गुप्ता, मधुकर गुप्ता, वाई माथुर, रोहित कुमार सिंह, सुधांश पंत, दिनेश कुमार, रोहित कुमार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *