मोदी ने दिया राफेल, पटनायक ने दिया चिटफंड, पर हम देंगे पैसाः राहुल

उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी जनजातीय समुदाय के अधिकारों के संरक्षण के लिए काम करेगी. राहुल गांधी ने कहा कि कांग्रेस सरकार ने ओडिशा को एक स्पेशल जगह दी और आगे बढ़कर मदद की है.

भाजपा और बीजद ने दलितों को लूटा है
राज्य के पिछड़े इलाकों में शामिल भवानीपटना में एक रैली को संबोधित कर रहे गांधी ने कहा कि केंद्र की भाजपा नीत सरकार और ओडिशा में बीजद सरकार दलितों, आदिवासियों, किसानों और गरीबों के कल्याण के लिए काम करने में विफल रही हैं.

कांग्रेस करेगी आदिवासियों के अधिकारों की रक्षा 

उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस एकमात्र पार्टी है, जो दलितों की जमीनों के संरक्षण के लिए प्रतिबद्ध है. हम ओडिशा में और कहीं भी आदिवासियों के अधिकारों की रक्षा करेंगे.’

भाजपा और बीजद अपने उद्योगपति दोस्तों के लिए काम करती है
गौरतलब है, यह 10 दिन के अंदर राहुल गांधी का दूसरा ओडिशा दौरा है, जहां विधानसभा और लोकसभा चुनाव साथ में होने हैं. गांधी ने 25 जनवरी को भुवनेश्वर में एक रैली को संबोधित किया था. भाजपा और बीजद पर जोरदार हमला बोलते हुए गांधी ने कहा कि दोनों पार्टियां अपने उद्योगपति दोस्तों के फायदे के लिए काम कर रही हैं, वहीं किसानों और गरीबों की अनदेखी कर रही हैं.

15 उद्योगपतियों का ऋण माफ लेकिन किसानों का नहीं
उन्होंने आरोप लगाया कि मोदी सरकार ने 15 उद्योगपतियों का 3.5 लाख करोड़ रुपये का ऋण माफ कर दिया लेकिन किसानों का कर्ज माफ नहीं किया. कांग्रेस अध्यक्ष ने आरोप लगाया कि भाजपा नीत केंद्र सरकार ने अपने वादे के बावजूद किसानों को उनके उत्पाद के उचित दाम नहीं दिलाए. नवीन पटनायक ने ओडिशा में किसानों के फायदे के लिए काम नहीं किया.

देश का चौकीदार भ्रष्ट है

गांधी ने कहा कि छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश और राजस्थान में सत्ता में आने के दो दिन के भीतर इन राज्यों में कांग्रेस की सरकारों ने कृषि ऋण माफ कर दिया. उन्होंने प्रधानमंत्री पर परोक्ष निशाना साधते हुए कहा कि ‘चौकीदार भ्रष्ट है’. उन्होंने नवीन पटनायक पर चिटफंड घोटालों के लिए रिमोट से चलने का आरोप भी लगाया.
किसानों को लौटाई जाएंगी जमीनें

गांधी ने कहा कि कांग्रेस ने फैसला किया है कि अगर भूमि अधिग्रहण के पांच साल के अंदर परियोजना शुरू नहीं हो पाई तो उद्योग लगाने के लिए ली गई जमीनें किसानों को लौटा दी जाएंगी. उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में इस दिशा में काम शुरू हो चुका है.