योगी ने लखनऊ की बस्ती में झाड़ू लगाई, टॉयलेट्स का इंस्पेक्शन भी किया

लखनऊ. योगी आद‍ित्यनाथ ने शनिवार को बालू अड्डा स्थ‍ित मलिन बस्ती में झाड़ू लगाई। योगी के साथ मिनिस्टर्स सुरेश खन्ना और बृजेश पाठक ने भी झाड़ू लगाई। योगी ने यहां बने टॉयलेट्स का भी इंस्पेक्शन किया। उन्होंने वर्कर्स से पूछा कि आपका काम कैसा चल रहा है और पैसा वक्त पर मिलता है या नहीं?
देवरिया में भी मंत्री ने झाड़ू लगाई…
– याेगी के साथ सफाई अभियान में मेयर और इलाके की पार्षद भी यहां मौजूद थे। पार्षद से योगी ने इलाके की पूरी जानकारी ली।
– देवरिया में भी मिनिस्टर सूर्यप्रताप शाही और जय प्रकाश निषाद ने जिला अस्पताल में झाड़ू लगाई।
कल हुई थी रिव्यू मीटिंग
– दरअसल, हाल में आई अर्बन मिनिस्ट्री की रिपोर्ट को लेकर योगी काफी सख्त हो गए हैं। उन्होंने शुक्रवार को इसे लेकर रिव्यू मीटिंग भी की थी।
– बता दें, देश के 434 शहराें का साफ-सफाई काे लेकर सर्वे हुआ था। इसमें यूपी के 62 शहरों को शामिल किया गया। इसमें वाराणसी को छोड़कर कोई भी यूपी का शहर टॉप 100 में नहीं है।
इंदौर सबसे क्लीन सिटी
– इस सर्वे के मुताबिक, इंदौर देश की सबसे क्लीन सिटी है। वहीं, एमपी की राजधानी भोपाल का दूसरा नंबर है। वहीं, यूपी की राजधानी लखनऊ की 269वीं पोजिशन है। 434वीं रैंक के साथ यूपी का गोंडा सबसे आखि‍री नंबर पर है।
इस आधार पर तैयार हुई थी रिपोर्ट
– सर्वे में सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट, वेस्ट कलेक्शन, शौचालयों के हालात, सफाई को लेकर लोगों की आदतों में सुधार और सफाई पर एजुकेशन और अवेयरनेस को आधार बनाया गया था। शहरी विकास मंत्रालय की काउंसिल ने देश के 38 शहरों को सम्मानित करने की सिफारिश की थी। काउंसिल ने इन शहरों में जाकर सड़क से लेकर सार्वजनिक स्थानों, मार्केट, रेलवे लाइन, बस स्टैंड और सेक्टर कॉलोनियों का सर्वे कर सफाई की रिपोर्ट तैयार की थी।