रामदेव ने किया स्वदेशी ‘मैगी’ लाने का एलान, बोले- देश से माफी मांगे नेस्ले

ramdev_1433671570
नई दिल्ली. योग गुरु बाबा रामदेव ने देश में मैगी पर बैन के बाद इसका स्वदेशी मॉडल लाने का एलान किया है। रविवार को उन्होंने कहा कि पतंजलि की हेल्दी नूडल्स में जरूरत से ज्यादा मैदा नहीं होगा। नेस्ले कंपनी की नूडल्स में लेड और एमएसजी जैसे हानिकारक तत्व मिलने पर रामदेव ने कहा कि मैगी बनाने वाली कंपनी को माफी मांगनी चाहिए। अगर सरकार कड़े कदम उठाती है, तो मैगी को भारत से पैक-अप करना पड़ सकता है।
रामदेव बोले- नेस्ले की मैगी ने देश का नुकसान किया – उन्होंने कहा कि हम बच्चों को वही स्वाद और उनकी पसंद वापस लौटाने की कोशिश करेंगे। इस स्वदेशी नूडल्स में कोई हानिकारक तत्व भी नहीं होगा। हमारा लक्ष्य देश के लोगों को स्वदेशी के प्रेरित करना और कम दाम में बेहतर क्वालिटी के प्रोडक्ट्स उपलब्ध कराना है। उन्होंने देश के लोगों से स्वदेशी चीजें अपनाने की अपील की। साथ ही कहा कि हमें ऐसी कंपनी नहीं चाहिए, जो आपके बच्चों को ज़हर खिलाती हो। नेस्ले की मैगी ने देश का बहुत नुकसान किया है।
फर्जी पतंजलि की मैगी पर दी सफाई
देशभर में मैगी पर बैन लगने के बाद बाबा रामदेव के पतंजलि योग पीठ में बनी मैगी की फोटो सोशल मीडिया में खूब वायरल हुई। कुछ यूजर्स ने तो इसे बाबा रामदेव का प्रोडक्ट बताकर मैगी को बैन करने के पीछे साजिश बताई। लेकिन अब बाबा रामदेव ने इसे फर्जी करार दिया है। अपने ट्विटर अकाउंट पर उन्होंने बताया कि पतंजलि ट्रस्ट किसी प्रकार की नूडल्स नहीं बनाता है। कुछ शरारती लोगों ने पतंजलि के नमकीन-बिस्किट के पैकेट को फोटोशॉप के जरिए फर्जी मैगी बना दिया है।