राहुल अयोध्या में: बाबरी कांड के 24 साल में पहली बार गांधी परिवार के मेंबर का दौरा

           किसान यात्रा के चौथे दिन शुक्रवार को अयोध्‍या पहुंचे राहुल गांधी ने हनुमान गढ़ी मंदिर में दर्शन किया। इसके बाद महंत ज्ञान दास से मुलाकात की। बता दें, 1992 में विवादित ढांचा गिराए जाने के बाद राहुल नेहरू-गांधी परिवार के पहले ऐसे सदस्‍य हैं, जो अयोध्‍या पहुंचे हैं।
कोई मीटिंग और प्रोग्राम नहीं…
– फैजाबाद जिला कांग्रेस कमिटी के प्रेसिडेंट राम दास वर्मा ने बताया कि मंदिर में दर्शन और महंत ज्ञान दास से मिलने के अलावा राहुल का और कोई प्रोग्राम या किसी के साथ मीटिंग नहीं है।
– इस दौरान राहुल को विवादित परिसर और जहां पत्‍थर रखे हैं, उस जगह से दूर रखा जाएगा। ये वही पत्‍थर हैं, जो 1989 में राम मंदिर निर्माण के लिए अयोध्‍या लाए गए थे।
– कांग्रेसी नेताओं का कहना है कि राहुल के मंदिर के दौरे का राजनीति से कोई मतलब नहीं है।
क्या बोले महंत
– महंत ज्ञान दास ने कहा, ‘हम मंदिर में सभी का स्‍वागत करते हैं। राहुल गांधी का भी स्‍वागत है। हम संत हैं और हम उन सभी को आशीर्वाद देते हैं, जो हमारा आशीर्वाद लेते हैं।’
– बता दें, कुछ दिनों पहले महंत ज्ञान दास ने अखिलेश यादव को लखनऊ में उनके घर पर एक प्रोग्राम के दौरान आशीर्वाद दिया था।
सुरक्षा में हुई थी चूक
– इससे पहले गुरुवार को जब राहुल का काफिला फैजाबाद पहुंचा तो उनकी सुरक्षा में सेंध लग गई।
– दरअसल, जिस समय कांग्रेस नेता और समर्थक उनका स्वागत कर रहे थे, उसी समय रिवॉल्वर लिए एक युवक उनके करीब तक पहुंच गया।
– बाद में एसपीजी के सुरक्षाकर्मियों ने उसे पकड़ लिया और पूछताछ के बाद पुलिस के हवाले कर दिया।
– एसपी सिटी संकल्प शर्मा ने बताया कि राहुल गांधी की सुरक्षा में लगे एसपीजी के अफसरों ने आरोपी मानबहादुर को पुलिस को सौंप दिया है।
– वह कांग्रेस से जुड़ा नेता बताया जा रहा है। मामले की जांच की जा रही है।
– इससे पहले देवरिया में किसान यात्रा के पहले दिन राहुल गांधी की स्पीच के बाद वहां मौजूद 2000 खाटें लोगों ने लूट ली थीं।