राहुल उदयपुर से निकले, मंदसौर में मारे गए किसानों की फैमिली से मिलेंगे

मंदसौर. ​मध्य प्रदेश में बुधवार काे किसान आंदोलन के हिंसक होने के बाद मंदसौर कलेक्टर और एसपी को हटा दिया गया है। वहीं राहुल गांधी किसानों से मिलने के लिए उदयपुर से मंदसौर के लिए रवाना हो गए हैं। नीमच में हेलिकॉप्टर उतारने की इजाजत नहीं मिलने के बाद राहुल उदयपुर के रास्ते यहां पहुंचेंगे। यहां वे फायरिंग में मारे गए 6 किसानों के परिवार से मुलाकात करेंगे। आंदोलन वाले इलाकों में कई जगह अभी भी मोबाइल सर्विसेस सस्पेंड हैं।

बाइक से भी मंदसौर जा सकते हैं राहुल..

– राहुल गुरुवार सुबह 9.30 हेलिकॉप्टर से उदयपुर पहुंचे। यहां से वे मृतक किसानों के घर वालों से मिलने के लिए मंदसौर रवाना हुए। राहुल के साथ प्रदेश अध्यक्ष अरुण यादव भी हैं। राहुल को रोकने लिए पुलिस ने राजस्थान- मप्र बॉर्डर स्थित नयापुरा गांव में एक हजार से ज्यादा जवान तैनात किए हैं। यहां स्थित गेस्ट हाउस विक्रम फोर्ट को टेम्पररी जेल बनाया गया है। पूरा नयागांव छावनी में तब्दील हो गया है। चारों ओर बैरिकेड्स लगा दिए गए हैं और कांग्रेसियों को काफी दूर ही राेक लिया गया है।

– सूत्रों के मुताबिक राहुल गांधी के साथ बड़ी संख्या में उदयपुर से कांग्रेस वर्कर्स आ रहे हैं। इन सभी को यहां अरेस्ट कर टेम्पररी जेल में रखा जाएगा। एडमिनिस्ट्रेशन ने इन्हें रोकने के लिए इंदौर-उज्जैन डिवीजन से अतिरिक्त पुलिस बल मंगाया है।
– सूत्रों का यह भी कहना है कि राहुल को अगर मंदसौर जाने की इजाजत नहीं मिली तो वे बाइक से वहां तक पहुंचने की कोशिश करेंगे।

महाराष्ट्र में अब तक 7 की मौत
– कर्ज माफी और दूध के दाम बढ़ाने जैसे मुद्दे पर आंदोलन महाराष्ट्र में 1 जून से शुरू हुआ था। वहां अब तक 7 लोगों की मौत हो चुकी है।
– मध्य प्रदेश के किसानों ने भी कर्ज माफी, मिनिमम सपोर्ट प्राइस, जमीन के बदले मिलने वाले मुआवजे और दूध के रेट को लेकर आंदोलन शुरू किया। 3 जून को इंदौर में यह आंदोलन हिंसक हो गया। अब मंदसौर और राज्य के बाकी हिस्सों में भी तनाव है।

अभी भीकर्फ्यू जारी
– मंदसौर, पिपलिया मंडी, नारायणगढ़ और मल्हारगढ़ में कर्फ्यू अभी भी जारी है। वहीं, दलोदा और सुमात्रा में भी धारा 144 लगा गई। इंदौर में मंगलवार को शांति रही, लेकिन बुधवार को पड़ोसी जिले देवास के हाट पिपलिया में आंदोलनकारियों ने थाने के अंदर खड़ी गाड़ियों में आग लगा दी। मंदसौर में सभी मोबाइल सर्विसेस सस्पेंड कर दी गईं।
नीमच-रतलाम के भी कलेक्टर बदले
– मंदसौर में किसान आंदोलन से निपटने में सामने आई एडमिनिस्ट्रेशन की खामी के चलते राज्य सरकार ने मंदसौर के साथ-साथ नीमच और रतलाम के कलेक्टर का भी ट्रांसफर कर दिया है। मंदसौर कलेक्टर स्वतंत्र कुमार सिंह को डिप्टी सेक्रेटरी के रूप में भोपाल भेजा गया है। उनकी जगह शिवपुरी कलेक्टर ओमप्रकाश श्रीवास्तव को मंदसौर का कलेक्टर बनाया गया है।
– सागर के निगम कमिश्नर कौशलेन्द्र सिंह नीमच के नए कलेक्टर होंगे जबकि तन्वी सुन्द्रियाल को रतलाम कलेक्टर बनाया गया है। तरुण राठी को शिवपुरी कलेक्टर बनाया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *