राहुल गांधी ने कहा-ममता के दोनों पैर ब्रेक पर, उन्हें कार से बाहर फेंक दीजिए

कोलकाता (पश्चिम बंगाल). कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने कोलकाता के नेताजी सुभाष चंद्र बोस इनडोर स्टेडियम में कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को निशाने पर लिया। राहुल ने ममता पर तंज कसते हुए कहा, ‘आप ब्रेक पर एक पैर रखते हैं। लेफ्ट की सरकार ने यही किया था। आपने उन्हें बाहर फेंक दिया। अब ममतादी ने दोनों पैर ब्रेक पर रख दिए हैं। अब यह आप पर निर्भर है कि आप ममताजी को कार से बाहर फेंक दीजिए और कांग्रेस को ड्राइविंग सीट पर बैठा दीजिए। हम एक्सिलरेटर दबाएंगे।’ लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद कांग्रेस उपाध्यक्ष का यह पहला पश्चिम बंगाल दौरा है।

पीएम के दौरे के समय ममता के बांग्लादेश जाने पर उठाए सवाल
प्रधानमंत्री के बांग्लादेश दौरे के ही समय वहां गईं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की आलोचना करते हुए राहुल गांधी ने कहा, ‘वे पहले तो एकला चलो (अकेले चलने) का नारा देती थीं और फिर पीएम के साथ विदेश जाती हैं। जब मनमोहन सिंह पीएम थे, तब ममता बनर्जी ने उनके साथ बांग्लादेश जाने से इनकार कर दिया था।’
क्‍यों साधा निशाना
2011 में मनमोहन सिंह की बांग्लादेश यात्रा के वक्त भारत और बांग्लादेश तीस्ता विवाद पर समझौते को अंतिम रूप दे चुके थे। लेकिन ममता को यह समझौता मंजूर नहीं था। वे भी मनमोहन के साथ ढाका जाने वाली थीं लेकिन विरोध में उन्होंने ऐन वक्त पर यात्रा रद्द कर दी। इसके बाद मनमोहन ढाका गए लेकिन तीस्ता विवाद पर समझौता नहीं हो सका। इस बार ममता मोदी के साथ बांग्लादेश गई हैं, लेकिन दोनों देशों के बीच बातचीत के एजेंडे में तीस्ता विवाद शामिल नहीं है। लिहाजा ममता को भी यात्रा से एतराज नहीं है। इसी वजह से राहुल ने ममता पर निशाना साधा है।
जमीन अधिग्रहण को लेकर केंद्र की खिंचाई की
जमीन अधिग्रहण के मुद्दे पर कांग्रेस नेता ने मोदी सरकार की तीखी आलोचना की। राहुल ने कहा, ‘मोदी सरकार की नीयत साफ नहीं है। सरकार किसानों से जमीन मांग रही है। बड़े-बड़े शहरों के किनारे किसानों से जमीन लेकर उन्हें ठगा जा रहा है। वे बुंदेलखंड या राजस्थान में जमीन नहीं लेना चाहते हैं।’
राहुल ने कहा-मजदूरों का मुद्दा संसद में उठाऊंगा
इससे पहले राहुल गांधी ने हुगली के वेलिंगटन मिल ग्राउंड पर मजदूरों को संबोधित किया। राहुल ने जूट मजदूरों से मिलकर उनकी परेशानियां जानीं और मदद का भरोसा दिया। इस मौके पर उन्होंने कहा, ‘देश में फैक्ट्री-मिल मजदूरों की हालत खराब है। हम इस मुद्दे को संसद में उठाएंगे।’
फ्लैट खरीदने वालों से मिले कांग्रेस उपाध्यक्ष
कोलकाता पहुंचते ही सबसे पहले राहुल जूट मिल मजदूरों से मिले। इसके बाद दोपहर में पोर्ट ट्रस्ट गेस्ट हाउस में वह फ्लैट बायर्स खरीदने वाले लोगों से मिले और उनकी परेशानियां जानने की कोशिश की। गौरतलब है कि केंद्र सरकार के रियल एस्टेट बिल के खिलाफ राहुल ने आवाज उठाई थी।