राहुल गांधी ने कहा- सरकार बनने के बाद हिंदुस्तान के हर किसान का कर्जा करेंगे माफ

राजस्थान में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद पहली बार पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी आज जयपुर पहुंचे। यह दौरा कांग्रेस और राज्य सरकार के लिए खास है। यहां वह विद्याधरनगर में किसान रैली को संबोधित करके लोकसभा चुनाव का शंखनाद किया। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने हवाई अड्डे पर राहुल की अगवानी की। राज्य में कांग्रेस सरकार आने के बाद राहुल का यह पहला राजनीतिक कार्यक्रम है।

राजस्थान के जयपुर में किसान रैली को संबोधित करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने विधानसभा में मिली जीत के बारे में कहा कि यह जीत किसानों, युवाओं की है। राहुल गांधी ने कहा कि मालिक जनता, युवा और किसान हैं, हमारे दरवाजे राज्य के कमजोर लोगों के लिए हमेशा खुले हैं। राहुल गांधी ने कहा कि मैं हिन्दुस्तान के युवाओं, किसानों से कहता हूं कि वे बैकफुट पर न खेलें। फ्रंटफुट पर आकर खेलें। राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि पीएम मोदी बैकफुट पर खेलते हैं। वे वादे करते हैं कि युवाओं को रोजगार देंगे, लेकिन जब मौका आता है तो वे बैकफुट पर खेलते हैं।

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि राफेल की जांच होनी चाहिए। इसमें जेपीसी होनी चाहिए क्योंकि एचएएल को परे कर दिया। उन्होंने कहा कि ढाई घंटे तक निर्मला सीतारमण कोई जवाब नहीं दे पाईं।

राहुल गांधी ने कहा है कि दो दिन में राजस्थान की सरकार ने कर्जा माफ करके दिखा दिया। 10 दिन नहीं लगे। राजस्थान, मध्यप्रेदश और छत्तीसगढ़ की जनता ने नरेंद्र मोदी को संदेश दिया है कि उन्हें पूरे हिंदुस्तान का कर्जा माफ करना ही पड़ेगा। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी राजस्थान की राजधानी जयपुर के विद्याधर नगर स्टेडियम में कांग्रेस की किसान रैली को संबोधित कर रहे हैैं। दरअसल, राहुल गांधी की इस रैली के पीछे खास रणनीति है।

राहुल गांधी इस किसान रैली के जरिए कांग्रेस पार्टी की ओर से राजस्थान में लोकसभा चुनाव प्रचार अभियान की तैयारियों का आगाज करेेंगे। इस रैली के जरिए राहुल राजस्थान में की गई किसान कर्ज माफी को उपलब्धि के तौर पर पेश करेंगे। लोकसभा चुनाव के दौरान किसान कर्ज माफी एक बड़ा मुद्दा रहेगी जिसके जरिए पार्टी प्रचार अभियान को धार देगी।

किसान  रैली में इन मुद्दों पर है राहुल का फोकस

किसान रैली में राहुल गांधी का भाषण भी पूरी तरह लोकसभा चुनाव के सियासी रंग में रंगा हुआ है। सीएम अशोक गहलोत और डिप्टी सीएम सचिन पायलट भी इस मुद्दे पर खुलकर बयान दे चुके हैं कि राजस्थान सहित कांग्रेस शासित प्रदेशों में किसान कर्ज माफी होने के बाद अब केंद्र कर्ज माफ करे।

राहुल की रैली में मोदी और अंबानी के होर्डिंग

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की जयपुर के विधाधर नगर स्टेडियम में हुई किसान रैली में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और उधोगपति अनिल अंबानी के फोटो वाले होर्डिंग लगाए गए थे। इन होर्डिंग पर लिखा था,चाकीदार या भागीदार । काले रंग के ये होर्डिंग्स रैली स्थल के अतिरिक्त शहर के प्रमुख मार्गों पर भी लगाए गए। राज्य के परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने बताया कि प्रदेश के सभी शहरों और कस्बों में इस तरह के होर्डिंग्स लगाए जाएंगे।

राहुल को हल और चरखा भेंट किया गया

किसान रैली में कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव अविनाश पांडे ने राहुल गांधी को कृषि कार्य में काम आने वाला यंत्र हल और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने चरखा भेट किया। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने राहुल को राजस्थानी साफा पहनाया। पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने सूत की माला पहनाकर राहुल गांधी का स्वागत किया।

जयपुर पुलिस ने पहले राहुल को बताया पीएम ,फिर सुधारी गलती

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को जयपुर में किसान रैली को संबोधित किया। उनकी सुरक्षा को लेकर मंगलवार शाम को पुलिस ने एक गोपनीय विभागीय आदेश जारी किया, जिसमें राहुल गांधी को माननीय प्रधानमंत्री लिख दिया गया। यह आदेश जयपुर पुलिस कमिश्नरेट और सीआईडी के अधिकारियों को जारी हुआ। अफसरो का कहना है कि कॉपी-पेस्ट की वजह से यह गलती हुई थी, बाद में सुधार के साथ नया आदेश जारी कर दिया गया।

आदेश में इसमें लिखा गया कि आतंकी हमलों के मद्देनजर माननीय प्रधानमंत्री भारत सरकार की यात्रा के दौरान पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था या जाना आवश्यक है। अतिरिक्त पुलिस आयुक्त अजयपाल लांबा ने कहा कि आदेश की प्रति में सुधार के बाद ही हस्ताक्षर हुए थे। गलती वाली आदेश की प्रति वायरल हो गई। मेरे पास आदेश की प्रति में सुधार एडिशनल डीसीपी स्तर से होकर आया था।

राजस्थान में पांच साल बिजली की रेट नहीं बढ़ाएगी गहलोत सरकार, बनाया जाएगा किसान आयोग

राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार पांच साल तक किसानों को मिलने वाली बिजली के दर नहीं बढ़ाएगी। अपने पांच साल के कार्यकाल में गहलोत सरकार किसानों को उसी रेट पर बिजली उपलब्ध कराएगी जिस पर वर्तमान में कराई जा रही है। इसके साथ ही किसानों को एक लाख बिजली के कृषि कनेक्शन जून तक जारी कर दिए जाएंगे।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बुधवार को जयपुर के विधाधर नगर स्टेडियम में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की मौजूदगी में किसान रैली को संबोधित करते हुए कहा कि पिछली सरकार ने किसानों को बिजली के कृषि कनेक्शन नहीं दिए थे,अब उन्हे जून तक दे दिए जाएंगे। गहलोत ने राज्य में किसान आयोग गठित करने की भी घोषणा की।

किसान आयोग के माध्यम से किसानों से जुड़े मामलों का निपटारा होगा । किसान आयोग किसानों के कल्याण का काम करेगा। अपने खेत में फूड प्रोसेसिंग यूनिट लगाने वाले किसानों को अपनी जमीन का भूमि रूपानंतरण कराने की भी छूट देने की घोषणा भी सीएम ने की। अब तक किसान को भूमि रूपानंतरण कराने के लिए जिला कलेक्टर कार्यालय से लेकर राजस्व विभाग तक चक्कर लगाने पड़ते थे। उन्होने पीएम नरेन्द्र मोदी और प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे पर लापरवाही से शासन करने का आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा धर्म के नाम पर लोगों में नफरत फैलाने का काम करती है।

मनरेगा के काम फिर शुरू होंगे

रैली में उप मुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट ने कहा कि भाजपा सरकार ने मनरेगा को कमजोर किया था,अब राज्य में नरेगा के काम फिर शुरू होंगे। मनरेगा को मजबूत बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि युवाओं को रोजगार के संसाधन उपलब्ध कराने के प्रयास किए जा रहे है । बेरोजगारों को नौकरी मिलेगी और सस्ती दर पर लोन भी मिलेगा। उन्होंने कहा कि आगामी लोकसभा चुनाव में कांग्रेस सभी 25 सीटों पर जीत हासिल करेगी।