राहुल ने स्वीकार किया,शिवराज की छवि हौव्वा है,सांसदों के मन में

नई दिल्ली. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी का मानना है कि मप्र में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की ‘छवि’ को प्रदेश कांग्रेस ने हौवा बना रखा है।

बुधवार को संसद भवन में कांग्रेस संसदीय दल के कक्ष में राहुल ने मप्र के लोकसभा और राज्यसभा संसदों के साथ विमर्श किया। प्रदेश के एक केंद्रीय मंत्री ने जब कहा कि भाजपा तो कमजोर है, शिवराज की ‘छवि’ मजबूत है। इस पर राहुल ने कहा कि राज्य में भाजपा का संगठन मजबूत है। उसे हराने के लिए कांग्रेस को कमर कसनी होगी। केंद्रीय मंत्री कमलनाथ ने ब्लॉक व जिला स्तर पर कमेटियों को पुनर्गठित करने पर जोर दिया। राहुल ने इस पर सहमति जताई।उन्होंने कहा कि उनकी प्राथमिकता प्रदेश, जिला और ब्लॉक कांग्रेस कमेटियों को अधिकार संपन्न बनाना है। सांसद सज्जनसिंह वर्मा ने कोटा परमिट से टिकट बांटने पर रोक लगाने की बात कही। सांसद गजेंद्र सिंह राजूखेड़ी ने विधानसभा चुनाव के मद्देनजर यूथ कांग्रेस और एनएसयूआई के चुनावों को फिलहाल टालने का सुझाव दिया।

सांसद मीनाक्षी नटराजन ने भी अन्य सांसदों के पर्यवेक्षकों को गुप्तचरों की तरह और सभी प्रदेश के सभी केंद्रीय नेताओं के एक साथ दौरों की बात का समर्थन किया। सांसद सत्यव्रत चतुर्वेदी ने कमजोर पार्टी संगठन का हवाला देते हुए सवालिया अंदाज में कहा कि जीत की उम्मीद कैसे की जा सकती है, कोई चेहरा प्रस्तुत करना होगा। गुड्डु ने की सिब्बल और आजाद की शिकायत- सांसद प्रेमचंद गुड्डु ने केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल और गुलाम नबी आजाद की शिकायत की। उन्होंने बताया कि वे चार वर्ष से सिब्बल और आजाद से मुलाकात का समय मांग रहे हैं, लेकिन आज तक मौका नहीं मिला। वहीं केंद्रीय मंत्री जयराम रमेश और बेनीप्रसाद वर्मा के यहां सांसदों को पूरी तवज्जो मिलती है।

मंत्री कह देते हैं कौन भूरिया : गुड्डू
सांसद प्रेमचंद गुड्डू ने भूरिया के समर्थन में कहा कि केंद्रीय मंत्री कह देते हैं ‘कौन भूरिया’, इससे भ्रांति फैल जाती है। इस पर ऊर्जा मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि वे शासकीय कार्यों के चलते मंदसौर और देवास संसदीय क्षेत्रों में गए थे।
देवास सांसद सज्जन वर्मा ने दोनों नेताओं में तालमेल के लिए राहुल से हस्तक्षेप करने के लिए कहा। बैठक के बाद भूरिया ने कहा, ‘बैठक सौहार्दपूर्ण रही और सभी सांसदों ने बात रखी।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *