लालू बोले- देश में अघोषित आपातकाल, बीच में ही गिर जाएगी मोदी सरकार

रांची. राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद ने कहा कि देश में अघोषित आपातकाल की स्थिति है। भाजपा के शासनकाल में पूरे देश का वातावरण खराब हो चुका है। हर ओर अराजक माहौल है। गाय-भैंस, बकरी, मुर्गी और दूध बेचने वाले बेरोजगार हो गए हैं। किसानों की हालत खराब है। अब तो उनकी हत्या भी की जा रही है। बेरोजगारी चरम पर है। केवल बोली पर सरकार चल रही है। कहीं कोई ठोस काम नजर नहीं आ रहा है। यह सरकार पूंजीपतियों, उद्योगपतियों और कॉरपोरेट जगत के हितों के लिए चल रही है। देश को फिर सांप्रदायिकता की ओर धकेला जा रहा है। ऐसे में केंद्र की मोदी सरकार बीच में ही गिर कर धराशायी हो जाएगी। वे गुरुवार को रांची के स्टेट गेस्ट हाउस में मीडिया से बातचीत कर रहे थे।
उन्होंने कहा कि देश में हर साल 12 हजार किसान आत्महत्या कर रहे हैं। सीमा में घुसकर पाकिस्तानी आतंकी जवानों की हत्या कर रहे हैं। 56 इंच का सीना की बात करने वाले मोदी मौन हैं। भाजपा के शाइनिंग इंडिया ने दम तोड़ दिया है। यही स्थिति मोदी के मेक इन इंडिया की है। गोरक्षा के नाम पर आरएसएस का एक खेमा खेल रहा है। देश में पशु मेले के नाम पर लगभग 3 लाख करोड़ का कारोबार होता है। अप्रत्यक्ष तौर पर इस पर प्रतिबंध लगाने की तैयारी हो रही है।
सीएनटी-एसपीटी में छेड़छाड़ से आदिवासी को हाशिए पर आ जाएंगे
लालू प्रसाद ने कहा कि आदिवासी हित में झारखंड अलग राज्य बना था। सोच थी कि आदिवासी ही मुख्यमंत्री बनेंगे। इससे इतर आदिवासियों का हित तो नहीं सधा, आदिवासी मुख्यमंत्री भी नहीं रहे। गैर आदिवासी मुख्यमंत्री बनाने के लिए झारखंड नहीं बना। सीएनटी-एसपीटी में छेड़छाड़ कर सरकार आदिवासियों को हाशिए पर लाने की तैयारी कर रही है। झारखंड को लूटकर इसका हिस्सा दिल्ली पहुंचाने का सिलसिला अभी थमा नहीं है। कॉरपोरेट घरानों को अगर झारखंड में प्रवेश करने दिया गया, तो वे झारखंड को बेच देंगे।
यादव ने राष्ट्रपति चुनाव की चर्चा करते हुए कहा कि पिछले दिनों कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने 17 दलों की बैठक बुलाई थी। इससे सरकार का पसीना निकल आया है। लालू ने कहा कि पिछले चुनाव में भाजपा को जो वोट मिले, उसका कारण विपक्षी दलों का बिखराव था। जहां विपक्ष ने एकजुटता दिखाई, भाजपा मुंह की खाई है। बिहार-झारखंड इसके उदाहरण हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *