वन डे बोलिंग के सरताज बने रवींद्र जडेजा

tatpar Aug, 5, 2013

दुबई।। बायें हाथ के स्पिनर रवींद्र जडेजा आज पिछले 16 वर्षों में आईसीसी वन डे खिलाड़ियों की रैंकिंग में गेंदबाजों की सूची में टॉप रैंक हासिल करने वाले पहले भारतीय गेंदबाज बन गये। जडेजा से पहले 1996 में पूर्व कप्तान अनिल कुंबले ने यह उपलब्धि हासिल की थी।

जिम्बाब्वे के खिलाफ हाल में समाप्त हुई पांच मैचों की वन डे सीरीज में पांच विकेट लेने वाले जडेजा चार पायदान ऊपर चढ़े हैं और वह वेस्टइंडीज के आफ स्पिनर सुनील नरायन के साथ संयुक्त रूप से शीर्ष पर काबिज हो गये हैं। यह पहला मौका है कि जब गेंदबाजों की सूची में जडेजा चोटी पर पहुंचे हैं।

कुंबले नवंबर-दिसंबर 1996 में 11 मैचों तक शीर्ष पर रहे थे। कुल मिलाकर जडेजा वनडे रैंकिंग में नंबर एक पर पहुंचने वाले चौथे भारतीय गेंदबाज हैं। उनसे पहले कपिल देव (मार्च 1989), मनिंदर सिंह (दिसंबर 1987 से नवंबर 1988) और कुंबले ने यह उपलब्धि हासिल की।

जिम्बाब्वे के खिलाफ सीरीज भारत के लेग स्पिनर अमित मिश्रा के लिये भी अहम साबित हुई। इस सीरीज में रेकॉर्ड 18 विकेट लेने वाले मिश्रा 47 स्थान की लंबी छलांग लगाकर 32वें स्थान पर पहुंच गये हैं।

इस बीच भारतीय टीम ने भी आईसीसी वन डे रैंकिंग में शीर्ष पर अपनी स्थिति मजबूत की है। भारत ने जिम्बाब्वे के खिलाफ सीरीज में 5-0 से क्लीन स्वीप किया था। इससे हालांकि भारत को केवल एक रेटिंग अंक मिला और अब उसके 123 अंक हो गये हैं और दूसरे नंबर पर काबिज ऑस्ट्रेलिया पर उसकी बढ़त नौ अंक की हो गई है।

बल्लेबाजी में विराट कोहली और महेंद्र सिंह धोनी एक एक पायदान नीचे चौथे और सातवें स्थान पर खिसक गये। सुरेश रैना एक पायदान ऊपर 17वें और शिखर धवन 16 पायदान आगे 23वें स्थान पर पहुंच गये हैं। बल्लेबाजी सूची में दक्षिण अफ्रीका के हाशिम अमला अब भी शीर्ष पर काबिज हैं।

श्रीलंका के कुमार संगकारा ने करियर की सर्वश्रेष्ठ रेटिंग हासिल की है। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सीरीज में सर्वाधिक रन बनाने वाले संगकारा के 829 अंक हैं और वह तीसरे स्थान पर पहुंच गये हैं।