वाहनों से होगी बिजली बिल वसूली,मीटर रीडिंग व बिल वितरण

 

 

 

 

 

 

  • लाक डाउन 4.0 में राहत मिलते ही कंपनी ने पांचों ही संभाग में टीम बनाई

शैलेन्द्र सिंह पंवार,इन्दौर। घाटे में चल रही बिजली वितरण कंपनी की लाक डाउन ने कमर तोड़ दी है। लाक डाउन में कुछ हद तक राहत मिलते ही अब कंपनी ने अपना पुरा ध्यान वसूली पर लगा दिया है। इसके लिए शहरी क्षेत्र के पांचों ही संभाग में अब घर-घर जाकर वाहनों से वसूली की जाएगी। हालांकि वसूली के लिए कंपनी किसी भी श्रेणी के उपभोक्ताओं पर सख्ती नहीं कर सकेगी, क्योंकि लाक डाउन का सभी वर्ग पर असर पड़ा है। वसूली के साथ ही मीटर रीडि़ंग व बिल वितरण भी वाहनों से किया जाएगा।

कोरोना संकट के कारण शहर में भी मार्च माह के अंतिम दिनों में लाक डाउन लग गया था, वसूली के लिहाज से मार्च माह बिजली कंपनी के लिए भी महत्वपुर्ण होता है, और इस माह के अंतिम सप्ताह में तो वर्षभर की 40 प्रतिशत तक वसूली होती है, जिसमे नियमित उपभोक्ताओं के अतिरिक्त बकायदार भी बिल जमा करने में रूचि दिखाते है, लेकिन लाक डाउन ने कंपनी की सभी उम्मीदों पर पानी फैर दिया। मार्च माह की शत प्रतिशत वसूली नहीं हो सकी, वहीं वित्तिय वर्ष 2019-20 का राजस्व लक्ष्य भी प्राप्त नहीं हो सका। लाक डाउन 4.0 में सभी वर्गों के लिए बहुत हद तक राहत दी गई है, अति आवश्यक सेवाओं के साथ ही औद्योगिक, व्यापारिक व शासकीय तथा निजि क्षेत्रों से जुडे कई सेक्टरों को बारी-बारी से कड़ी शर्तों के साथ कामकाज करने की रियायत मिल रही है। इस रियायत से बिजली कंपनी की भी उम्मीद जगी है, अभी तक कंपनी का मैदानी अमला ही बिजली की निर्बाध आपूर्ति के लिए कोरोना योध्दा के रूप में जुटा हुआ था, लेकिन अब कंपनी ने वसूली के लिए भी स्टाफ तैनात कर दिया है। चुंकि आमजन को अभी कामकाज या किसी अन्य प्रकार से घर से बाहर निकलने की छूट नहीं मिली है, इसलिए कंपनी ने भी पांचों ही संभाग में वाहनों के माध्यम से घर-घर पहुंचकर वसूली करने का निर्णय लिया है। इसके लिए संभागवार टीम बनाई गई है। ये मोबाइल टीमें वाहनों से मीटर रीडि़ंग व बिल वितरण भी करेंगी, क्योंकि लाक डाउन के दो माह में मीटर रीडि़ंग भी नहीं हो पा रही है, वहीं बिल भी आनलाईन भेजे जा रहे है। कंटेनमेंट क्षेत्र को छोड़कर ये टीमें शहर में सभी दूर जाएगी। वाहनों में दो पहिया वाहन भी शामिल रहेंगे।

★ कहां कितने वाहन व कर्मचारी
पुर्व संभाग- 30 वाहन, कर्मचारी 342
पश्चिम संभाग- 32 वाहन, कर्मचारी 176
उत्तर संभाग- 20 वाहन, कर्मचारी 110
दक्षिण संभाग- 26 वाहन, कर्मचारी 94
मध्य संभाग- 19 वाहन, कर्मचारी 269

★ 60 काउंटर भी खुलेंगे
वाहनों के अतिरिक्त बिजली कंपनी को पांचों ही संभाग में 12-12 विभागिय काउंटर खोलने की भी अनुमति मिल गई है। इन काउंटर पर बिल राशि प्राप्त करने के लिए 1-1 कर्मचारी तैनात रहेगा। इस तरह से काउंटरो पर भी 60 कर्मचारी मौजूद रहेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *