वाहन उद्योग को उत्‍पाद शुल्‍क में दी जा रही रियायतें वापस लीं

सरकार ने वाहन उद्योग को उत्पाद कर में दी जा रही रियायतें वापस ले ली हैं। वित्त मंत्रालय ने रियायतों को जारी नहीं रखने का निर्णय लिया है। ये रियायतें यू पी ए सरकार ने फरवरी में अंतरिम बजट में दी थीं,

जिन्हें बाद में एन डी ए सरकार ने 31 दि‍संबर तक बढ़ा दिया था। एस यू वी के लिए उत्पाद कर 30 प्रतिशत से घटाकर 24 प्रतिशत किया गया था। मध्यम आकार की कारों के मामले में 24 से 20 प्रतिशत की कमी की गई थी।  इस फैसले के कारण आज से कार, दुपहिया वाहन और एस यू वी महंगे हो जाएंगे।