विदेश मंत्रालय ने पाक उप-उच्चायुक्त को समन किया, पुलवामा हमले और लापता पायलट को लेकर मांगा स्पष्टीकरण

पाकिस्तान के साथ बढ़ते तनाव के बीच भारतीय विदेश मंत्रालय ने पाकिस्तान के उप-उच्चायुक्त को समन किया है. उप-उच्चायुक्त सैयद हैदर शाह को तलब करके भारत ने पाकिस्तान की रवैये को लेकर कड़ी आपत्ति जताई है. पाक उप-उच्चायुक्त के सामने भारत ने दो बड़े मुद्दे उठाए हैं. समन के बाद सैयद हैदर शाह साउथ ब्लॉक स्थित विदेश मंत्रालय पहुंच गए हैं.

पाकिस्तान ने किए ये दावे

पाक उप-उच्चायुक्त के सामने विदेश मंत्रालय ने दो अहम मुद्दे उठाए हैं. भारत ने उप-उच्चायुक्त से पुलवामा आतंकी हमले और लापता भारतीय वायुसेना के पायलट अभिनंदन को लेकर स्पष्टीकरण मांगा है. दरअसल पाकिस्तान का दावा है कि उसने भारत के दो एयरक्राफ्ट मार गिराए और दो पायलट को गिरफ्तार किया है.

पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने दावा किया कि भारतीय वायुसेना के दो पायलटों को गिरफ्तार किया गया है. प्रवक्ता ने कहा कि एक पायलट घायल हुआ है और उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है जबकि दूसरे को कोई नुकसान नहीं हुआ है. उन्होंने कहा कि एक विमान पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में गिरा, जबकि दूसरा जम्मू कश्मीर में गिरा.

पाकिस्तान के इन दावों पर विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने बताया है, ‘’पाकिस्तानी विमान को मार गिराने के दौरान भारत का जो मिग 21 विमान दुर्घटना ग्रस्त हुआ है, उसके पायलट अभिनंदन के बारे में अभी कुछ पता नहीं है. पाकिस्तान ने अभी अधिकारिक तौर पर इस बारे में कुछ नहीं बताया है. हम तथ्यों की जांच कर रहे हैं.’’

वायुसेना के पायलट अभिनंदन लापता

ध्यान रहे कि भारतीय वायुसेना की एयर स्ट्राइक के अगले दिन यानी आज पाकिस्तानी विमानों ने जम्मू-कश्मीर के पुंछ और राजौरी सेक्टर में भारतीय वायु सीमा का उल्लंघन किया. इस जवाबी कार्रवाई में भारत ने एक पाकिस्तानी विमान को गिरा दिया. इस संघर्ष में भारतीय वायुसेना का भी एक मिग-21 क्रैश हुआ है और वायुसेना के पायलट अभिनंदन लापता हैं.

तीय वायुसेना की कार्रवाई में मारे गए 300 से ज्यादा आतंकी

बता दें कि कल सुबह तड़के पाकिस्तान के अंदर घुसकर भारत के लड़ाकू विमान 12 मिराज 2000 ने आतंकी ठिकाने पर भारी बमबारी की थी. ऑपरेशन 100 फीसदी कामयाब रहा और भारत ने पाकिस्तान को उसकी औकात दिखा दी. भारतीय वायुसेना की इस एयर स्ट्राईक में जैश-ए-मोहम्मद के सरगना आतंकी मसूद अजहर के दो आतंकी भाई इब्राहिम अजहर, मौलाना तल्हा सैफ और साले यूसुफ सहित 325 आंतकी मारे गए थे. इस दौरान जैश के 25 टॉप कमांडर भी मारे गए. इससे से झल्लाकर पाकिस्तान ने आज जम्मू-कश्मीर के नौशेरा में घुसने की कोशिश की लेकिन भारतीय सेना ने उसकी इस कोशिश को नाकाम कर दिया.

 

पुलवामा हमले में शहीद हुए थे 40 जवान

गौरतलब है कि इसी साल 14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले में आतंकी हमला किया था. जैश के आतंकी डार ने विस्फोटक से भरी कार को काफिले से टकरा दिया था. इस हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे. इस के बाद पूरी दुनिया ने इस हमले की निंदा की थी और पाकिस्तान से आतंकियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने को कहा था, लेकिन पाकिस्तान ने इस हमले को लेकर भारत के सभी आरोपों को खारिज कर दिया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *