संबंध सुधारने के लिये भारत जाएंगे कनाडा के विपक्षी नेता

नाडा के विपक्षी नेता एंड्रयू शीर ने कहा कि प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो की भारत यात्रा ने दोनों देशों के ‘संबंधों’ को नुकसान पहुंचाया है। वह इन संबंधों को सुधारने एवं मजबूत करने के उद्देश्य से भारत की यात्रा करने की योजना बना रहे हैं।

कंजरवेटिव पार्टी के नेता अक्तूबर में अपनी टीम के साथ नौ दिवसीय भारत यात्रा पर आयेंगे। इस दौरान उनकी वरिष्ठ सरकारी अधिकारी, कारोबारी दिग्गजों से मिलने की योजना है।

कनाडा में 21 अक्तूबर 2019 को चुनाव है और ट्रुडो ने चुनाव में फिर से खड़े होने का एलान किया है।

ग्लोबल न्यूज ने शीर के हवाले से कहा, “संयुक्त भारत के साथ खड़े होना कनाडा के लिये अभूतपूर्व मानव एवं आर्थिक विकास का प्रवेश द्वार है।”

उन्होंने दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र होने और सबसे तेजी से उभरती हुयी अर्थव्यवस्थाओं में से एक होने के लिये भारत की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि भारत हाल के वर्षों में भारत-प्रशांत क्षेत्र में उभरती हुयी शक्ति के रूप में बदल रहा है।

शीर ने कहा, “कंजरवेटिव सरकार दोनों देशों एवं उनके लोगों के बीच रणनीतिक संबंधों का विस्तार करेगी और हमारी साझा सुरक्षा, समृद्धि और मूल्यों को आगे बढ़ायेगी। दुर्भाग्यवश, ट्रूडो की भारत यात्रा से दोनों देशों के बीच संबंध को नुकसान पहुंचा है और अब हम इसके सुधार करना चाहते हैं।”