संसद में हंगामे के बीच राजनाथ ने कहा, पाकिस्तानी थे गुरदासपुर के हमलावर

नई दिल्ली. संसद के ऊपरी सदन राज्यसभा में गुरुवार को केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने गुरदासपुर हमले पर जोरदार हंगामे के बीच बयान दिया। राजनाथ ने कहा कि सीमा पार से होने वाली किसी आतंकी हरकत का मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा। उन्होंने कहा, ‘ हमला करने वाले तीनों आतंकवादी पाकिस्तान से आए थे। आतंकवादियों के पास से बरामद जीपीएस डिवाइस से पता चला है कि वे रावी नदी पारकर भारत में दाखिल हुए थे। तीनों सेना की वर्दी पहने हुए थे और उनके पास चीन में बने ग्रेनेड और एके-47 थी।’
जिस समय गृह मंत्री बयान दे रहे थे, उस दौरान विपक्ष में बैठे सांसद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ नारेबाजी करते रहे। बयान पूरा होते ही सदन की कार्यवाही शुक्रवार तक के लिए टाल दी गई। उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी ने पंजाब में हुए आतंकवादी हमले की निंदा की। उन्होंने पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम के अंतिम संस्कार के मद्देनजर कामकाज 2 बजे तक के लिए टाल दिया। 2 बजे राजनाथ सिंह ने बयान दिया।
वहीं, लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने गुरदासपुर में हुए आतंकवादी हमले की निंदा करते हुए पंजाब पुलिस के अफसरों और जवानों की शहादत को याद किया। उन्होंने लोकसभा के पूर्व सदस्य श्रीबल्लव पाणिग्रही, आरएस गवई और बीके हांडिक को श्रद्धांजलि दी। इसके बाद डॉ. कलाम के अंतिम संस्कार का हवाला देकर सदन की कार्यवाही को शुक्रवार तक के लिए टाल दी गई।