सपाक्स समाज पार्टी का गठन, प्रदेश की सभी 230 सीटों पर लड़ेगी चुनाव

  • एससी-एसटी एक्ट और प्रमोशन में आरक्षण का विरोध होगा मुख्य मुद्दा
  • करणी सेना समेत कई संगठनों का सपाक्स को मिल रहा है समर्थन

भोपाल. गांधी जयंती पर सपाक्स ने नई पार्टी के गठन की घोषणा की है। पार्टी का नाम सपाक्स समाज पार्टी रखा गया है। पार्टी प्रदेश की सभी 230 विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ेगी। पार्टी का पहला अध्यक्ष हीरालाल त्रिवेदी को बनाया गया। साथ ही, चार उपाध्यक्ष बनाए गए। पार्टी ने अपना झंडा भी लांच किया।

रविवार को भोपाल में सपाक्स की महाक्रांति रैली हुई थी। उसमें ऐलान किया था कि 2 अक्टूबर को पार्टी का गठन किया जाएगा। ऐसे में अब सपाक्स संगठन से राजनीतिक दल बन गया। सपाक्स ने प्रदेश कार्यकारिणी का भी गठन किया गया है। भाजपा नेता राजीव खंडेलवाल ने सपाक्स ज्वाइन की है, उन्हें उपाध्यक्ष बनाया गया है।

एससीएसटी एक्ट विरोध मुख्य मुददा: सपाक्स ने ऐलान किया है कि वो प्रदेश की सभी 230 सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारेगी। एससीएसटी एक्ट और प्रमोशन में आरक्षण का विरोध इनका प्रमुख चुनावी मुद्दा होगा। चुनाव आयोग की मंजूरी के बाद चुनाव चिन्ह तय होगा।

रविवार 30 सितंबर को महाक्रांति रैली के बाद सपाक्स ने सरकार पर आरोप लगाया था कि उसने रैली को नाकाम करने के लिए हर तरीके के हथकंडे अपनाए। 18 ट्रेन रद्द करने के साथ-साथ भोपाल शहर में सभा की अनुमति नहीं दी। बावजूद इसके सवर्ण समाज के सैकड़ों लोग रैली में शामिल होने भोपाल आए।

करणी सेना समेत कई संगठनों का समर्थन: एससीएसटी एक्ट की चौसर पर मध्य प्रदेश की सियासत में कई खिलाड़ी मैदान में कूद चुके हैं। सपाक्स भी अपना पूरा दम दिखा रही है। सपाक्स की सियासत मजबूत पार्टियों के लिए आखिर कितनी मुश्किल पैदा करेगी ये आने वाला वक्त ही बताएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *