सरकारी रिपोर्ट में खुलासा-मदर डेयरी के दूध में डिटरजेंट और जमी हुई चर्बी, दर्ज होगा केस

गाजियाबाद: यहां मदर डेयरी के बूथ से लिए गए सैंपल्स की दोबारा से जांच के दौरान उसमें डिटरजेंट और जमी हुई चर्बी के अंश मिले हैं। यह टेस्ट कोलकाता की सरकारी लैब में किया गया। सैंपल्स जिले के फूड एंड ड्रग्स एडमिनिस्ट्रेशन डिपार्टनेंट (एफडीए) ने लिए थे। जांच रिपोर्ट एफडीए को मंगलवार को मिले। एफडीए के अफसर विनीत कुमार ने बताया कि मदर डेयरी के फुल क्रीम और टोन्ड मिल्क के सैंपल्स जनवरी महीने में लिए गए थे। इन सैंपल्स को मेरठ की सरकारी लैब में जांच के लिए भेजा गया। मदर डेयरी के अधिकारियों ने मेरठ में हुई जांच के नतीजों को चैलेंज किया और दोबारा से कोलकाता की लैब में जांच कराने को कहा।
आगे क्या
कोलकाता सेंट्रल लैब की टेस्ट रिपोर्ट को फिलहाल डीएम विमल कुमार शर्मा को सौंप दिया गया है। वे इसे कमिश्नर को फॉरवर्ड करेंगे। कमिश्नर मदर्स डेयरी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की मंजूरी देंगे। हालांकि, मदर डेयरी का कहना है कि दोनों टेस्ट रिपोर्ट में कुछ चेंज है, इसलिए वे सही कानूनी मंच पर इस रिपोर्ट को चैलेंज करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *