सरकार के 2 साल: मोदी बोले- खास है ओबामा से दोस्ती, लाहौर जाना मेरा इनीशिएटिव था

नई दिल्ली.नरेंद्र मोदी ने अपनी सरकार के दो साल पूरे होने के मौके पर एक इंटरव्यू में यूएस प्रेसिडेंट बराक ओबामा से दाेस्ती के बारे में खुलकर बात की है। वहीं, नवाज शरीफ के बर्थडे पर लाहौर का दौरा करने के बारे में भी बताया है। मोदी का कहना है कि ओबामा के साथ उनकी हक की दोस्ती है। वहीं, लाहौर यात्रा पर जाना उनका अपना इनीशिएटिव था।
मोदी ने इंटरव्यू में और क्या कहा…
– सरकार के दो साल पूरे होने के पर मोदी ने वॉल स्ट्रीट जनरल के एडिटर इन चीफ गेरार्ड बेकर से बातचीत की है।
– मोदी ने कहा, ”अमेरिका जाने का मौका इसलिए आया है क्योंकि मिस्टर ओबामा ने मार्च में मुझे इन्विटेशन भेजा था। जब मैं न्यूक्लियर समिट में गया था तब भी उन्होंने व्यक्तिगत रूप से मुझसे आग्रह किया था कि मैं अमेरिका आऊं।”
– ”मेरे आग्रह पर वे भारत में दोबारा आए थे। मेरा स्वाभाविक दायित्व भी बनता है। हम दोनों के बीच दोस्ती भी ऐसी है कि हम एकदूसरे से बड़े हक से बात करते हैं।”
– ”दूसरा, मेरे लिए बड़े गर्व की बात है कि यूएस कांग्रेस ने ज्वाइंट सेशन को संबोधित करने के लिए मुझे बुलाया है। अमेरिकी जनता के साथ बात करने का मौका मिल रहा है।”
डिफेंस कोऑपरेशन पर…
– मोदी ने कहा- जहां तक डिफेंस की बात है, जरूर भारत डिफेंस मैन्युफैक्चरिंग में आगे बढ़ना चाहता है। हमारा डिफेंस का इम्पार्ट बहुत बड़ा है।
– उन्होंने कहा- डिफेंस इक्विपमेंट मैन्युफैक्चरिंग ऐसा क्षेत्र है जिसमें मेरे देश के नौजवानों को रोजगार मिल सकता है। उसके लिए मैं हर एक देश से बात करता हूं।
पाकिस्तान के बारे में…
– मोदी ने इंटरव्यू में कहा- ”आपको मालूम है कि मेरी सरकार जिस दिन बनी, ये मेरा इनीशिएटिव था कि मैंने सार्क देशों के सभी राष्ट्राध्यक्षों को मेरे शपथ समारोह में बुलाया था।” – ”अभी तो मेरा प्रधानमंत्री बनना बाकी था। लेकिन मैंने इरादा स्पष्ट किया था कि हम हमारे पड़ोसियों के साथ घनिष्ठ दाेस्ती चाहते हैं। जो भला मैं अपने देश का चाहता हूं, वही भला मैं पड़ोसियों का चाहता हूं।”
– ”इसी वजह से मैं लाहौर गया था। ये मेरा अपना इनीशिएटिव था। आतंकवाद सारी दुनिया का कन्सर्न है। आतंकवाद से हमें कॉम्प्रोमाइज न करेंगे, न हमें करना चाहिए।”
भूमि अधिग्रहण विधेयक पर…
– इंटरव्यू में मोदी ने भूमि अधिग्रहण बिल पर भी बात की। उन्होंने कहा कि जमीन अधिग्रहण कानून में संशोधन की केंद्र सरकार की कोशिशें पूरी हो चुकी हैं। राज्य सरकारें चाहें तो अपने-अपने हिसाब से इसमें बदलाव कर सकती हैं।
– बता दें कि मोदी सरकार ने इस बिल को संसद से पास कराने में पूरा जोर लगा दिया था। लेकिन, कांग्रेस के विरोध और राज्यसभा में बीजेपी के कम सांसद होने के कारण सरकार की कोशिशें पूरी नहीं हो पाई थी।
डोनाल्ड ट्रंप पर नहीं किया कमेंट
– अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव के दौरान डोनल्ड ट्रंप के मुस्लिम विरोधी बयानों पर मोदी ने कोई जवाब नहीं दिया।
– इस बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा- चुनाव में हो रही बहस पर सरकार को नहीं बोलना चाहिए।
– सरकार के दो साल पूरे होने के पर मोदी ने वॉल स्ट्रीट जनरल के एडिटर इन चीफ गेरार्ड बेकर से बातचीत की है।