सरकार ने जारी किया 21 महीने बाद सर्जिकल स्ट्राइक का विडियो

जम्मू-कश्मीर के उड़ी में पिछले साल हुए आतंकी हमले के बाद भारतीय सेना द्वारा की गई सर्जिकल स्ट्राइक की पहली बार वीडियो और तस्वीरें सामने आई हैं। बता दें कि 18 सितंबर 2016 को उड़ी सैन्य कैंप पर आतंकियों ने हमला कर दिया था। जिसके 11 दिन बाद भारतीय जवानों ने पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में घुसकर सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम दिया गया था। जिसकी चर्चा देश में ही नहीं विदेशों में भी हुई थी।

इस दौरान भारतीय सेना ने आतंकी ठिकानों को तबाह कर दिया गया था। जिसके बाद देश में विपक्षी पार्टियों ने सवाल खड़े किए थे और सर्जिकल स्ट्राइक को फर्जिकल करार दिया था। यही नहीं देश के नेताओं और कई बुद्धिजीवियों ने इसके सबूत भी मांगे थे। सोशल मीडिया में भी मांग उठी थी कि सरकार ने कोई सर्जिकल स्ट्राइक नहीं की है अगर की है तो वह इसके सबूत दे।

बता दें कि सर्जिकल स्ट्राइक के अगले दिन सेना के तत्कालीन डायरेक्टर जनरल ऑफ मिलिट्री ऑपरेशंस रणबीर सिंह ने एक प्रेस कांफ्रेंस करके इसकी जानकारी साझा की थी। जिसके बाद पाकिस्तान ने कहा था कि भारत द्वारा ऐसी कोई भी कार्रवाई नहीं की गई है। लेकिन अब इस कार्रवाई के 21 महीने बाद एक वीडियो सामने आया है। जिसमें कई लॉन्च पैड्स को तबाह होते देखा जा सकता है।

18 सितंबर को उड़ी में हुए इस हमले में सेना के 20 जवान शहीद हुए थे। इसके बाद आतंकियों से बदला लेने के लिए सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम दिया गया था। स्ट्राइक के बाद भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने देशभर में जश्न मनाया था। साथ ही पोस्टर लगाकर पीएम नरेंद्र मोदी और रक्षा मंत्री मनोहर पार्रिकर को बधाई दी थी।