सीएम खट्टर को दिखाए काले झंडे, हरियाणा के हालात पर हाईकोर्ट ने मांगी रिपोर्ट

पानीपत/रोहतक/चंडीगढ़.हरियाणा में जाट आंदोलन में भड़की हिंसा के बाद हालात अभी भी तनावपूर्ण है। जींद से कर्फ्यू हटा लिया गया है, जबकि मंगलवार को रोहतक, सोनीपत, हिसार, भिवानी में कर्फ्यू में चार घंटे की ढील दी गई है। नाराज लोगों ने रोहतक में सीएम मनोहर लाल खट्टर को काले झंडे दिखाए।
हाईकोर्ट ने किस बात पर तलब की रिपोर्ट…
 – पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट की जज एसके मित्तल और एचएस सिद्धू की बेंच ने मुरारी लाल गुप्ता की पब्लिक इंटरेस्ट पिटीशन पर स्टेट एडवोकेट जनरल बीआर महाजन को सोमवार तक राज्य के हालात पर रिपोर्ट पेश करने का इंस्ट्रक्शन दिया।
– कोर्ट ने कहा कि ‘सभी राजनीतिक दलों और नेताओं को जन-कल्याण के बारे में सोचना चाहिए।
– हरियाणा को वही हरियाणा रहने दें, जैसा कि उसे जाना जाता है। नहीं तो वह 50 वर्ष पीछे चला जाएगा।’
– पिटीशन में कहा गया है कि हरियाणा में बेहद खराब माहौल होने की बात की गई है।
बिना भाषण दिए लौट गए खट्टर
 – हरियाणा में मनोहर लाल खट्टर मंगलवार को हिंसा पीड़ितों से मिलने पहुंचे तो उन्हें लोगों के गुस्से का सामना करना पड़ा।
– हालात इतने बिगड़ गए कि खट्टर को बिना भाषण दिए ही लौटना पड़ा। उन्हें काले झंडे दिखाए जाने की खबरें हैं।
– इसी तरह पूर्व सीएम भूपिंदर सिंह हुड्डा को भी लोगों के गुस्से का सामना करना पड़ा।
– गुस्साई भीड ने उनके खिलाफ जमकर नारेबाजी की। जाट प्रदर्शनकारियों ने जिन लोगों की दुकाने जला दी थीं हुड्डा उनसे मिलने पहुंचे थे।
– उनके खिलाफ जमकर नारेेबाजी हुई। इसी दौरान किसी ने उनके ऊपर जूता उछाल दिया।
– शांति की अपील के लिए भूख हड़ताल करने वाले हुड्‌डा अपने एक करीबी प्रो. वीरेंद्र सिंह के विवादित ऑडियो के कारण लोगों के गुस्से का शिकार हुए।
राजस्थान में भी हिंस्सा के बाद इंटरनेट बैन
– इंटरनेट पर 2 बजे तक बैन था। मंगलवार को इसे 24 घंटे के लिए बढ़ा दिया गया।
– नदबई, हेलक और भरतपुर में तोड़फोड़ की घटनाएं सामने आई हैं।
– आंदोलनकारियों ने हेलक रेलवे स्टेशन पर एक मालगाड़ी को आग लगा दी।
– कुम्हेर इलाके के दो एटीएम तोड़ दिए गए।
– भरतपुर के तेवर में आंदोलनकारियों ने एसटीफ की गाड़ी पर पथराव किया है। फिलहाल, भरतपुर जाने वाले सभी रास्ते बंद हैं।
– भरतपुर शहर में मंगलवार को वीकली मार्केट रहता है। लेकिन हालात बिगड़ने की वजह से यहां मंगलवार को यह मार्केट नहीं लगा।
 सीएम, दो मिनिस्टर दिल्ली तलब
 – रिजर्वेशन की मांग कर रही जाट कम्युनिटी का आंदोलन सोमवार शाम खत्म हो गया।
– हरियाणा के सभी रास्तों के खुलने की उम्मीद है।
– ऑल इंडिया जाट संघर्ष समिति के एलान के बाद भी प्रदर्शनकारी कई जगह अभी डटे हैं।
– इस बीच, केंद्र ने हरियाणा के सीएम और दो मिनिस्टर को दिल्ली तलब किया है।
– केंद्र की ओर से वेंकैया नायडू मनोहर लाल खट्टर से बात करेंगे।
सोनीपत में आर्मी से भिड़े जाट आंदोलनकारी, कुल 18 लोगों की मौत…
 – प्रदर्शनकारियों और आर्मी के बीच सोमवार को सोनीपत के लड़सौली में भिड़ंत हुई। इस दौरान हुई फायरिंग में चार लोगों की मौत हो गई। इस आंदोलन में अब तक 18 की मौत हुई है।
– मंत्री रामविलास शर्मा के मुताबिक, जो बेकसूर लोग मारे गए हैं, उनकी फैमिली को 10 लाख रुपए का मुआवजा दिया जाएगा। परिवार के एक मेंबर को सरकारी नौकरी भी दी जाएगी।
जो रास्ते खुल गए हैं
– सोनीपत में आर्मी की देख-रेख में सोमवार रात 10.45 बजे जीटी रोड पर से ट्रैफिक शुरू हो गया।
– दिल्ली-रेवाड़ी-जयपुर और महेंद्रगढ़-झुंझुनू हाईवे खुले।
– रोहतक-पानीपत हाईवे भी साफ कराया गया।
– रोहतक-सांपला नेशनल हाईवे-8 भी खुला।
कहां-कितना हुआ नुकसान?
– एसोचैम के मुताबिक, 21 फरवरी तक ही करीब 20,000 करोड़ का नुकसान हो चुका था।
– आंदोलन से हरियाणा के बिजनेस पर बुरी तरह से असर पड़ा है। सबसे ज्यादा असर रोहतक पर पड़ा है।
– ये नुकसान पब्लिक-प्राइवेट प्रॉपर्टी को नुकसान पहुंचाने और बिजनेस रोकने से हुआ है।
– एक अनुमान के मुताबिक, आंदोलन से हरियाणा को कुल 34 हजार करोड़ का नुकसान हुआ है।
– नॉर्दर्न रेलवे के चीफ पब्लिक रिलेशन अफसर नीरज शर्मा के मुताबिक, जाट आंदोलन के दौरान रेलवे को 200 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ।
– 1000 ट्रेनों पर असर पड़ा। इनमें से कुछ कैंसल कर दी गईं और कुछ के रूट बदल दिए गए।
– लगभग 10 लाख पैसेंजर परेशान हुए।