सुल्तानपुर में नहीं मिली PM को जमीन, अब लालू के गढ़ में होगी मोदी की सभा

हाजीपुर।काफी मान-मनौवल के बाद भी औद्योगिक क्षेत्र सुल्तानपुर गांव के लोग पीएम की सभा के लिए जमीन देने को तैयार नहीं हुए। खेतों में लगी फसल से होने वाली उपज से ज्यादा मुआवजा दिए जाने की पेशकश को किसानों ने ठुकरा दिया। जगह के लिए पिछले कई दिनों से प्रशासनिक स्तर पर चल रहे प्रयासों को करारा झटका लगा है।
अब हाजीपुर से सटे राघोपुर प्रखंड के छौंकिया दियारा में पीएम की सभा हो सकती है। जमीन के लिए किसानों से बातचीत चल रही है। किसानों ने जमीन के संबंध में प्रशासनिक अफसरों को सकारात्मक संकेत दिए हैं।
12 मार्च को हाजीपुर में पीएम की सभा होनी है। बिना पर किसानों से बातचीत किए बगैर प्रशासनिक स्तर पर सभास्थल का मौका-मुआयना का दौर शुरू हो गया था। तीन दिन पूर्व प्रमंडलीय आयुक्त अतुल प्रसाद, पूर्व मध्य रेल के जीएम एके मित्तल समेत कई आला अधिकारियों ने सभास्थल का जायजा लिया था। अचानक गुरुवार को किसानों ने जमीन के लिए ना कर दिया। अफसरों को लग रहा था कि फसल से मिलने वाली उपज से कहीं ज्यादा लेने के लिए किसान भाव खा रहे हैं। एसडीओ रवींद्र कुमार ने गुरुवार को किसानों को अपने फैसले पर पुनर्विचार करने का अनुरोध किया था।
ग्रामीण सूत्र बताते हैं कि गुरुवार की रात के अलावा अगले दिन शुक्रवार को भी ग्रामीणों ने आपस में सलाह-मशविरा कर किसी कीमत पर सभा के लिए जमीन न देने का निर्णय लिया। हां या ना, किसानों ने क्या निर्णय लिया इसकी जानकारी लेने के लिए एसडीओ रवींद्र कुमार प्रस्तावित सभास्थल के निकट 11 बजे पहुंच गए थे। सौ से अधिक किसान वहां मौजूद थे। किसानों ने किसी कीमत पर जमीन न देने का फैसला सुना दिया। किसानों ने जमीन न देने के संबंध में संयुक्त हस्ताक्षरित आवेदन एसडीओ को सौंप दिया। उजिरपुर सांसद की बात किसानों ने नहीं मानी। उन्हें भी रिराशा हाथ लगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *