सुषमा ने दी कांग्रेसी नेता की पोल खोलने की धमकी, सोनिया-राहुल ने रद्द किया धरना

नई दिल्ली. ललित गेट विवाद में घिरीं विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने आरोप लगाया है कि कोयला घोटाला मामले के एक आरोपी को डिप्लोमैटिक पासपोर्ट दिए जाने के लिए कांग्रेस के एक बड़े नेता ने दबाव बनाया। सुषमा ने बुधवार को ट्वीट करके कहा कि वह संसद में उस कांग्रेसी नेता का नाम बताएंगी जिसने कोयला घोटाले में आरोपी संतोष बागरोदिया को डिप्लोमैटिक पासपोर्ट देने के लिए दबाव बनाया था। उधर, इसके कुछ देर बाद ही कांग्रेस की ओर से संसद भवन परिसर में बुधवार को प्रस्तावित धरना-प्रदर्शन का कार्यक्रम कैंसल हो गया। इसमें कांग्रेस प्रेसिडेंट सोनिया गांधी और वाइस प्रेसिडेंट राहुल गांधी भी शामिल होने वाले थे।
सुषमा स्वराज का ट्वीट
बुधवार को ट्वीट करते हुए सुषमा ने कहा, ”एक सीनियर कांग्रेस लीडर कोल स्कैम के आरोपी संतोष बागरोदिया को डिप्लोमैटिक पासपोर्ट दिए जाने के लिए मुझ पर दबाव बनाया था। उस नेता का नाम मैं संसद में बताउंगा।” बता दें कि आज ललित गेट पर विदेश मंत्री संसद में अपनी सफाई पेश कर सकती हैं।
कौन हैं संतोष बागरोदिया
संतोष बागरोदिया राजस्थान से कांग्रेस के नेता हैं और तीन बार राज्यसभा सांसद रह चुके हैं। मंगलवार को कोयला घोटाले की सुनवाई करते हुए स्पेशल सीबीआई जज भरत पराशर ने समन जारी करते हुए संतोष बागरोदिया, एचसी गुप्ता और एलएस जनोती को 18 अगस्त को पेश होने के लिए कहा था। इसी के बाद बुधवार को सुषमा ने यह ट्वीट किया। बागरोदिया पर कोयला घोटाले में एएमआर आयरन एंड स्टील कंपनी को महाराष्ट्र का बंदेर कोल ब्लॉक अवैध तरीके से दिलाने का आरोप लगा है। कांग्रेस सरकार में बागरोदिया मंत्री भी रह चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *