सेमीफाइनल में वेस्ट इंडीज के खिलाफ इंडिया को भारी न पड़ जाएं ये कमियां

नई दिल्ली.टीम इंडिया टी-20 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में पहुंच गई है। उसका मुकाबला 31 मार्च को मुंबई में वेस्ट इंडीज के खिलाफ होगा। टीम ने चार में से तीन मैच जीते हैं। लेकिन ज्यादातर मैच में टीम का परफॉर्मेंस धोनी, कोहली और नेहरा पर ही फोकस्ड रहा। मैच बांग्लादेश से रहा हो या ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ, टीम इंडिया ने आखिरी ओवर में ही रोमांचक जीत हासिल की। ये परफॉर्मेंस चैम्पियन टीम जैसा बिल्कुल नहीं है।
1.धोनी-कोहली-नेहरा पर डिपेंडेंसी।
2.आखिरी ओवरों में स्ट्रगल करते हुए लक फैक्टर पर डिपेंडेंसी।
3.रोहित, शिखर, रैना की कैजुअल अप्रोच।
4.जडेजा, युवराज के ऑल राउंड परफॉर्मेंस की कमी।
5. अश्विन का जरूरत से ज्यादा एक्सपेरिमेंटल होना।
6.एक ही टीम को बनाए रखना और शमी-नेगी-हरभजन की मौजूदगी के बावजूद बेंच स्ट्रैंग्थ का इस्तेमाल नहीं करना।
1 डिपेंडेंसी
 बैटिंग
– टीम का परफॉर्मेंस खासकर कोहली और धोनी के इर्दगिर्द ही है।
– पिछले मैच में 52% रन अकेले कोहली ने बनाए थे।
– कोहली ने इस टूर्नामेंट में 184 रन बनाए हैं। यह राेहित, धवन और रैना के इस वर्ल्ड कप के टोटल पर्सनल स्कोर से ज्यादा है।
– ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मैच की बात करें तो 7 से 15 ओवर में कोहली ने 100 के स्ट्राइक रेट से रन बनाए थे।
– लेकिन जब टॉप और मिडिल ऑर्डर बैट्समैन आउट हो गए और प्रेशर बढ़ा तो कोहली ने 16 से 20 ओवर में 238 के स्ट्राइक रेट के साथ रन चेज किया।
– रोहित, शिखर, रैना परफॉर्म नहीं कर पा रहे हैं।
बॉलिंग

– डिपेंडेंसी नेहरा पर हो गई है क्योंकि ब्रेकथ्रू की 100% गारंटी वे ही दिला पाते हैं।
– चार मैच में उन्होंने चार विकेट लिए हैं। 15 ओवर डाले हैं, लेकिन 6 से कम इकोनॉमी मेनटेन रखी है।
बुमराह एक्यूरेसी कायम नहीं रख पा रहे।

2 लक बाय चांस
– न्यूजीलैंड के खिलाफ टीम हार गई।
– ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ कोहली-धोनी ने अपने आखिरी 51 रन 21 बॉल पर बनाए। तब जाकर जीत मिली।
– बांग्लादेश के खिलाफ आखिरी ओवर की आखिरी बॉल तक मैच गया।
– यानी मैच 90% हिस्से में तो दूसरी टीम के कंट्रोल में रहा। टीम को इससे बचना होगा।
3 कैजुअल अप्रोच
 (a) रोहित शर्मा
– रोहित 20 का स्कोर भी पार नहीं कर पा रहे।
– उनमें टैलेंट है। एक्स्प्लोसिव बैट्समैन हैं। लेकिन फॉर्म दिखाने के लिए बड़ा इंतजार करा रहे हैं।
T20 WC में रोहित का परफॉर्मेंस
4 मैच
45 रन
18 रन हाईएस्ट
11.25 एवरेज
(b) शिखर धवन
 – धवन पर धोनी लगातार भरोसा जता रहे हैं। लेकिन इनकी बैटिंग परफॉर्मेंस रोहित से भी खराब है।
– 4 मैच में से एक मैच में बड़ी इनिंग नहीं खेल पाए।
T20 WC में धवन का परफॉर्मेंस
4 मैच
43 रन
23 रन हाईएस्ट
10.75 एवरेज
(c) सुरेश रैना
 – रैना 4 मैच में तीन विकेट जरूर लिए हैं लेकिन बैटिंग में कुछ खास नहीं कर पाए।
– धोनी इनसे लगातार चौथे नंबर पर बैटिंग करा रहे हैं।
– लेकिन ये मिडिल ऑर्डर को मजबूती देकर कोहली-धोनी की तरह मैच फिनिश नहीं कर पा रहे।
T20 WC में रैना का परफॉर्मेंस
4 मैच
41 रन
30 रन हाईएस्ट
10.25 एवरेज