स्मृति की जगह जावड़ेकर बने HRD मिनिस्टर, कई मंत्रियों के पोर्टफोलियो बदले

नई दिल्ली.नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कैबिनेट में 19 नए मंत्रियों को शामिल किया। देर रात उन्‍हें मंत्रालय अलॉट किए गए। सबसे बड़ा बदलाव स्‍मृति ईरानी के मामले में रहा। उन्हें एचआरडी मिनिस्‍ट्री से हटाकर टेक्सटाइल मिनिस्टर का जिम्‍मा सौंपा गया। उनकी जगह प्रकाश जावड़ेकर एचआरडी मिनिस्‍ट्री संभालेंगे। उन्हें राज्य मंत्री से प्रमोट करके कैबिनेट मंत्री बनाया गया है। चौधरी बीरेंद्र सिंह, रविशंकर प्रसाद, सदानंद गौड़ा जैसे मंत्रियों के भी पोर्टफोलियो बदले गए हैं।
– चौधरी बीरेंद्र सिंह से रूरल डेवलपमेंट मिनिस्टरी लेकर नरेंद्र सिंह तोमर को दी गई है। बीरेंद्र सिंह अब इस्पात मंत्री होंगे।
– कानून मंत्री सदानंद को स्टैटिस्टिक्स एंड प्रोग्राम इम्पलिमेंटेशन मिनिस्टर बनाया गया है। मई 2014 में उनके पास रेल और नवंबर 2014 के बाद से वे कानून मंत्रालय देख रहे थे।
– रविशंकर प्रसाद अब आईटी के साथ-साथ कानून मंत्रालय की जिम्मेदारी संभालेंगे।
मोदी मंत्रिमंडल में शामिल 19 नए राज्य मंत्रियों को
1. अर्जुन राम मेघवाल :फाइनेंस, कार्पोरेट अफेयर्स
2. सीआर चौधरी :कन्ज्यूमर अफेयर्स, फूड एंड पब्लिक डिस्ट्रीब्यूशन
3. पीपी चौधरी :लॉ एंड जस्टिस, इलेक्ट्रॉनिक एंड इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी
4. विजय गोयल :स्पोर्ट्स, वाटर रिसोर्सेस, रिवर डेवलपमेंट एंड गंगा पुनरुद्धार
5. अनुप्रिया पटेल :हेल्थ एंड फैमली वेलफेयर
5. कृष्णा राज :वुमन एंड चाइल्ड डेवलपमेंट
7. महेंद्रनाथ पांडे :एचआरडी
8. अजय टमटा :टेक्सटाइल
10. फग्गन सिंह कुलस्ते :हेल्थ एंड फैमली वेलफेयर
11. एमजे अकबर :एक्सटर्नल अफेयर्स
12. सुभाष भामरे :डिफेंस
13. रामदास अठावले :सोशल जस्टिस
14. जसवंतसिंह भाभोर :ट्राइबल अफेयर
15. मनसुख मनदाविया :रोड ट्रान्सपोर्ट एंड हाइवेज
16. पुरुषोत्तम रूपाला :एग्रीकल्चर और पंचायती राज
17. राजेन गोहेन :रेलवे
18. राजेश जिगजिगानी:ड्रिंकिंग वाटर एंड सेनिटेशन
19. एसएस अहलूवालिया :एग्रीकल्चर
इनकी हुई छुट्टी
1. एमके कुंदरिया –कृषि राज्यमंत्री थे।
2. निहालचंद –रसायन मंत्री रहे।
3. सांवरलाल जाट –जल संसाधन राज्यमंत्री थे।
4. मनसुख वसावा –आदिवासी मामलों के राज्यमंत्री थे।
5. रामशंकर कठेरिया –मानव संसाधन राज्यमंत्री रहे।
20 महीने बाद फेरबदल
– मई 2014 में सरकार बनने के बाद पिछला और इकलौता फेरबदल नवंबर 2014 में हुआ था।
– इस बदलाव से पहले मोदी ने कहा कि इसे फेरबदल नहीं, विस्तार कहिए।
– शिवसेना कोटे से किसी को मंत्री नहीं बनाया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *