हवा बंगला-राऊ सड़क होगी फोरलेन,स्वीकृति मिली

  • यातायात का दबाब कम होगा,पीथमपुर जाने वालों को मिलेगी राहत

शैलेन्द्र सिंह पंवार, इन्दौर। हवा बंगला से केट होते हुए राऊ को जोडऩे वाली सड़क फोरलेन में परिवर्तित होगी, शासन स्तर पर इसकी स्वीकृति मिल गई है। इस सड़क पर यातायात का अत्याधिक दबाब रहता है, फोरलेन से दबाब भी कम होगा और पीथमपुर की और जाने वाले लोगों को इस सड़क का अधिक लाभ मिल सकेगा।

महू नाका चौराहे से हवा बंगला तक की सड़क को नगर निगम बहुत पहले ही फोरलेन में परिवर्तित कर चुका है, फोरलेन होने के बाद इस पर यातायात भी बढ़ गया है और कई लोग इस सड़क से होते हुए ही राऊ व पीथमपुर की और जाते है। हवा बंगला तक कोई दिक्कत नहीं होती है, लेकिन इसके आगे फोरलेन सड़क नहीं होने से वाहन चालकों को परेशानियों का सामना करना पड़ता है। हवा बंगला से राऊ तक की सड़क को फोरलेन करने की लंबे समय से मांग थी, भाजपा-कांग्रेस दोनों ही दल के जनप्रतिनिधि जुटे हुए थे, पिछले दिनों इसको लेकर वरिष्ठ नेता मधु वर्मा ने भी मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को पत्र लिखा था। पिछले दिनों शासन स्तर से लोक निर्माण विभाग को इसकी स्वीकृति मिल गई है, अब विभाग जल्द ही इसके टेंडर लगाएगा और टेंडर फायनल होते ही काम शुरू करने की कार्रवाई की जाएगी। कार्यपालन यंत्री राजेन्द्र कुमार जोशी के अनुसार इस प्रक्रिया में दो माह का समय लग सकता है। फोरलेन सड़क के बीच में डिवाईडर भी होंगे और स्ट्रीट लाईटें भी लगाई जाएंगी।

■ 5.60 किमी लंबी,13.33 करोड़ लागत
5.60 किलोमीटर लंबी सड़क के निर्माण पर 13.33 करोड़ की लागत लगेगी, दोनों और 6-6 मीटर की सड़क निर्मित की जाएगी। सीमेन्ट कांक्रिट वाले स्थान को छोड़कर शेष सड़क डामर की रहेगी। वर्तमान टू लेन सड़क के साथ ही अधिकांश हिस्से में जमीन भी उपलब्ध है, इसलिए फोरलेन करने में कोई परेशानी नहीं है, जहां पर निजि या सरकारी जमीन आएगी उसे लेने की विभिन्न कोशिश करेगा। विभाग ने दिसम्बर 2019 में इस सड़क को फोरलेन करने का प्रस्ताव तैयार किया था, जिसे अब जाकर स्वीकृति मिल सकी है, इसके निर्माण से सबसे ज्यादा लाभ पीथमपुर की और जाने वाले लोगों को होगा।।