हिमाचल चुनाव में BJP को पूर्ण बहुमत, नए कांग्रेस अध्यक्ष ने एक राज्य और गंवाया

नई दिल्ली.हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने कांग्रेस हराते हुए बहुमत भी हासिल कर लिया। इस हार के साथ कांग्रेस अध्यक्ष बने राहुल गांधी ने एक राज्य और गंवा दिया। अब 4 राज्य और एक केंद्र शासित प्रदेश में ही कांग्रेस की सरकार बची है। सोमवार को सामने आए नतीजों में बीजेपी को 44 और कांग्रेस को 21 सीटें मिलीं। हालांकि, इस जीत के साथ बीजेपी को एक बड़ा नुकसान भी हुआ। पार्टी के सीएम कैंडिडेट प्रेम कुमार धूमल चुनाव हार गए। सीएम वीरभद्र सिंह और उनके बेटे विक्रमादित्य ने जीत दर्ज की।हिमाचल में बीजेपी को 48.8 जबकि कांग्रेस को 41.7% वोट हासिल हुए। उधर, बीजेपी ने मुख्यमंत्री का नाम फाइनल करने के लिए रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण और नरेंद्र सिंह तोमर को ऑब्जर्वर बनाया है।

हिमाचल विधानसभा चुनाव नतीजे: एक नजर में

# कब हुए चुनाव?

– राज्य की 68 सीटों पर सिंगल फेज में (9 नवंबर) को चुनाव हुए। कुल 74.61% वोटिंग हुई। यह पिछले चुनाव ( 72.61%) के मुकाबले 2.92% ज्यादा रही।

# किसे कितना फायदा-कितना नुकसान?

– बीजेपी का वोट शेयर करीब 10% बढ़ा और कांग्रेस का करीब 1% कम हुआ। सीटों के मामले कांग्रेस को नुकसान तो बीजेपी को फायदा हुआ।
– इस बार बीजेपी को 44 (पिछली बार 26) सीटें मिलीं, वहीं कांग्रेस को 21 (पिछली बार 36) सीटें मिलीं।

मुख्यमंत्री चुनने के लिए ऑब्जर्वर

– नतीजों के बाद सोमवार देर शाम दिल्ली में बीजेपी पार्लियामेंट्री बोर्ड की मीटिंग हुई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी शामिल हुए।

– इसके बाद केंद्रीय मंत्री जेपी नड्डा ने बताया- पार्टी ने गुजरात के लिए वित्त मंत्री अरुण जेटली, जनरल सेक्रेटरी सरोज पांडे और हिमाचल प्रदेश के लिए रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण, नरेंद्र सिंह तोमर को ऑब्जर्वर बनाया है। चारों नेता दोनों राज्यों में जाएंगे और विधायकों की राय लेकर मुख्यमंत्रियों के नाम फाइनल करेंगे।

शाह का इशारा, धूमल नहीं होंगे सीएम

– अमित शाह ने सोमवार को अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में इस बात की तरफ इशारा किया कि चुनाव हारने वाले प्रेम कुमार धूमल को पार्टी हिमाचल का सीएम नहीं बनाएगी।

– बता दें कि धूमल को इलेक्शन कैंपेन के दौरान अमित शाह ने ही पार्टी का सीएम कैंडिडेट घोषित किया था।

– शाह से सवाल किया गया कि धूमल चुनाव हार रहे हैं। ऐसे में बीजेपी क्या उन्हें सीएम बनाएगी। इस पर शाह ने कहा- जनादेश का आदर किया जाएगा।

नतीजों पर किसने क्या कहा?

– सुजानपुर सीट पर धूमल को हराने वाले कांग्रेस कैंडिडेट राजिंदर राणा ने कहा, ”यह कांग्रेस पर जनता के भरोसे का संकेत है। अपनी जीत के लिए लोगों को धन्यवाद देता हूं। अब क्षेत्र की जनता की सेवा करेंगे।”
– केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा, ”हम प्रेम कुमार धूमल की हार से दुखी हैं, लेकिन इस बात की खुशी है कि हिमाचल प्रदेश की जनता ने बदलाव के लिए बीजेपी को वोट किया।”
– चुनाव हारने के बाद प्रेम कुमार धूमल ने कहा, ”व्यक्तिगत नुकसान (हार) मायने नहीं रखता। खास बात है कि बीजेपी ने हिमाचल में जीत दर्ज की। पार्टी को वोट देने के लिए राज्य की जनता का शुक्रिया। राजनीति में कोई एक जीतेगा तो दूसरा हारेगा ही, लेकिन मुझे हार की उम्मीद नहीं थी। इसके कारणों का एनालिसिस करेंगेेेे।”

# सभी 4 अहम सीटें कांग्रेस के पास

सीट जीते हारे
अर्की वीरभद्र सिंह (कांग्रेस) रतन पाल सिंह (बीजेपी)
सुजानपुर राजेंद्र राणा (कांग्रेस) प्रेम कुमार धूमल (बीजेपी)
शिमला ग्रामीण विक्रमादित्य सिंह (कांग्रेस) प्रमोद शर्मा (बीजेपी)
पालमपुर आशीष बुटेल (कांग्रेस) इंदु गोस्वामी (बीजेपी)

पिछले चुनावों में क्या रहे थे नतीजे?

पार्टी 2017 विधानसभा चुनाव वोट शेयर 2012 विधानसभा चुनाव वोट शेयर 2014 लोकसभा चुनाव वोट शेयर
कांग्रेस 21 41.7% 36 42.8% 00 41.1%
बीजेपी 44 48.8% 26 38.5% 04 53.9%
अन्य 03 8.5% 06 14% 00 1.4%

पिछले 5 चुनावों में किसे कितनी सीटें मिलीं

साल बीजेपी कांग्रेस अन्य
1993 8 52 8
1998 31 31 6
2003 16 43 9
2007 41 23 4
2012 26 36 6
2017 44 21 3

पिछले 5 चुनावों का वोट शेयर

साल बीजेपी कांग्रेस अंतर
1993 36.1% 48.8% 12.7%
1998 39% 43.5% 4.5%
2003 35.4% 41% 5.6%
2007 43.8% 38.9% 4.9%
2012 38.5% 42.8% 4.3%
2017 48.8% 41.7% 7.1%

हिमाचल में 27 साल में 60 से ज्यादा सीटें किसी पार्टी को नहीं मिलीं

साल कांग्रेस बीजेपी अन्य
1990 9 46 13
1993 52 8 8
1998 31 31 6
2003 43 16 9
2007 23 41 4
2012 36 26 6
2017 21 44 3

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *