24 जून को भारत आएंगे अमेरिकी विदेश मंत्री पोम्पियो, हिंद-प्रशांत क्षेत्र में सुरक्षा के मुद्दे पर होगी चर्चा

वॉशिंगटन. अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो 24 जून को भारत आएंगे। यहां वे सुरक्षा के मुद्दे पर कई अफसरों से बातचीत करेंगे। दरअसल, पोम्पियो 24 से 30 जून तक हिंद-प्रशांत क्षेत्र में स्थित देशों के दौरे पर रहेंगे। उनका पहला पड़ाव भारत ही रहेगा। इसके बाद वे श्रीलंका, जापान और दक्षिण कोरिया जाएंगे। 

दौरे से पहले भारतीय व्यापारियों से मिलेंगे पोम्पियो 

दौरे से पहले पोम्पियो ने रिपोर्ट्स से बातचीत में कहा, “भारत और अमेरिका का रिश्ता दोनों देशों के लिए काफी अहम है। राष्ट्रपति ट्रम्प की हिंद-प्रशांत नीति के लिए भी भारत अलग स्थान रखता है। इसलिए दौरे से दो हफ्ते पहले ही तैयारी के लिए मैं भारतीय बिजनेस लीडर्स से चर्चा करूंगा।”

चीन की बढ़ती गतिविधियों को लेकर चिंता में अमेरिका

पोम्पियो ने कहा, “यह अहम मौका होगा जब मैं इस बारे में बात कर पाऊंगा कि दोनों देश (भारत-अमेरिका) किस तरह आर्थिक रूप से आपस में जुड़े हैं। इसके अलावा आने वाले समय में दोनों देश इन संबंधों को मजबूत करने के लिए क्या कर सकते हैं।” दरअसल, हिंद-प्रशांत में चीन की बढ़ती गतिविधियों के चलते अमेरिका भी इस क्षेत्र में अपना वर्चस्व बनाना चाहता है। इसी के चलते भारत को अहमियत देते हुए उसने अपनी प्रशांत कमांड को हिंद-प्रशांत कमांड नाम दिया था।

पोम्पियो प्रधानमंत्री मोदी के सत्ता में लौटने के बाद पहली बार भारत आएंगे। हालांकि, पिछले हफ्ते ही अमेरिका के राजनीतिक-सैन्य मामलों के मंत्री क्लार्क कूपर भारत के दौरे पर पहुंचे थे। यहां उन्होंने रक्षा के क्षेत्र में निवेश को लेकर कई अफसरों से मुलाकात की थी। 

भारत-अमेरिका के बीच विवाद कम करने पर रहेगी नजर
भारत और अमेरिका के बीच रिश्तों में बीते कुछ समय में गिरावट देखी गई है। हाल ही में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने भारत को जनरलाइज्ड सिस्टम ऑफ प्रेफरेंसेज (जीएसपी) से बाहर करने का फैसला किया था। जीएसपी के तहत भारत जो उत्पाद अमेरिका भेजता है उन पर वहां आयात शुल्क नहीं लगता। हालांकि, अमेरिका का आरोप है कि भारत अपने यहां पहुंचने वाले अमेरिकी उत्पादों पर भारी आयात शुल्क लगाता है, जिससे उसे नुकसान होता है।

इसके अलावा भारत के रूस से एस-400 मिसाइल डिफेंस सिस्टम खरीदने पर भी अमेरिका ने नाराजगी जताई है। रक्षा क्षेत्र में रूस के साथ सौदा करने पर अमेरिका ने भारत को प्रतिबंध लगाने की धमकी भी दी है। वहीं ईरान और वेनेजुएला से तेल आयात पर भी अमेरिका ने रोक लगाई है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *