26/11 हमले में पैरेंट्स को गंवाने के बाद पहली बार भारत आएगा मोशे, मोदी ने किया था इनवाइट

येरुशलम. मुंबई में 26 नवंबर 2008 को हुए आतंकी हमले का विक्टिम इजरायली बच्चा मोशे 15 जनवरी को इस घटना के बाद पहली बार भारत आ रहा है। इस यात्रा के लिए वह बेहद एक्साइटेड और इमोशनल है। 4 दिन के भारत दौरे पर आ रहे राष्ट्रपति बेंजामिन नेतन्याहू उसे साथ ला रहे हैं। जुलाई में मोदी के इजरायल दौरे के वक्त उसने भारत आने की मंशा जाहिर की थी।

पैरेंट्स से जुड़ी चीजें देखने का इंतजार

– मोशे के ग्रांडफादर रब्बी शिमोन राजेनबर्ग ने न्यूज एजेंसी को बताया, “वह भारत आने को लेकर काफी एक्साइटेड है, साथ ही इमोशनल भी। वह अपने बर्थप्लेस पर जा रहा है। उसे अपने पैरेंट्स से जुड़ी कई चीजों को देखने का इंतजार है, जिनके बारे में वो अब तक अपनी नानी से सुनता रहा है।”

मुंबई हमले में मारे गए थे मोशे के पैरेंट्स
– मोशे के पिता गैवरियल होल्त्जबर्ग मुंबई के नरीमन हाउस (चाबाद हाउस) में डायरेक्टर थे। वे पत्नी रिवका के साथ यहां रहते थे। आतंकियों ने यहां रिवका और गैवरियल समेत 6 लोगों को मारा था।
– घटना के वक्त मोशे सिर्फ 2 साल का था। वह माता-पिता की डेड बॉडी के बीच रोता मिला था।
– बता दें कि 2008 में हुए मुंबई हमले में 166 लोग मारे गए थे। नरीमन हाउस उन पांच जगहों में से एक था जहां आतंकियों ने हमला किया था।

मोदी ने दिया था भारत आने का न्योता
– प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जुलाई में इजरायल दौरे पर गए थे। उनकी 5 जुलाई को येरुशलम में मोशे से मुलाकात हुई थी। तब पीएम ने मोशे से पूछा, “तुम भारत आना चाहोगे? तुम और तुम्हारा परिवार कभी भी भारत आ सकता है। जहां चाहे, वहां जा सकता है।”
– प्रधानमंत्री के सवाल पर मोशे ने हामी भर दी थी। इसके बाद नेतन्याहू ने कहा था, “मोदी ने मुझे भारत बुलाया है, जब मैं भारत जाऊंगा तब तुम मेरे साथ मुंबई चलना।”
– बता दें कि मोशे और उनके परिवार को अगस्त में भारत ने 10 साल के लिए वीजा जारी किया है। वे इस दौरान कितनी भी बार भारत आ सकते हैं।

‘मैं चाबाद हाउस का डायरेक्टर बनूंगा’
– मोशे ने मोदी से कहा था, “मेरे माता-पिता मुंबई में यहूदियों और गैर-यहूदियों के साथ रहते थे। उनका घर हर किसी के लिए खुला रहता था। मैं अब इजरायल में अपने दादा-दादी के साथ रहता हूं। उम्मीद करता हूं कि मैं मुंबई जा सकूंगा और जब मैं बूढ़ा हो जाऊंगा तो मैं वहीं रहूंगा। मैं अपने चाबाद हाउस का डायरेक्टर बनूंगा।”