बिगड़े रिश्ते पर नेताओं के बोल वचन

tatpar 13 june 13

बीजेपी और जेडीयू के तल्ख रिश्ते पर नेताओं के बयान थमने का नाम नहीं ले रहा है। गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी को प्रचार कमेटी की कमान क्या मिली, पहले वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी नाराज हुए फिर गठबंधन का प्रमुख दल जेडीयू आंखें दिखा रहा है। जेडीयू कभी भी अलविदा की नमाज पढ़ सकता है। दोनों दलों की दोस्ती में दरार क्या आई बयानों का दौर ही चल पड़ा। चलिए कुछ नेताओं के बयान आगे स्लाइड के जरिए हम आपको बताते हैं।

कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह ने कहा है कि जदयू-भाजपा गठबंधन लगभग टूट चुका है। पार्टी कोर कमेटी में इसका फैसला ले लिया गया है। उन्होंने मोदी पर निशाने साधते हुए कहा कि हमें किसी भी कीमत पर दंगाई मंजूर नहीं है। उन्होंने कहा कि नीतीश की 18 और 19 जून की सेवा यात्रा रद्द कर दी गई। 15 को सभी पार्टी विधायकों की बैठक बुलाई गई है। संभवत: इसी दिन पार्टी अपने फैसले का एलान करेगी।

जेडीयू नेता शिवानंद तिवारी ने कहा कि मोदी का नेतृत्व तोड़ने वाला है। जेडीयू प्रवक्ता शिवानंद तिवारी ने कहा कि मोदी सरदार पटेल का नाम ले रहे हैं। अगर पटेल होते तो मोदी को कान पकड़कर सत्ता से बाहर कर देते।

शरद यादव ने कहा है कि बीजेपी-जेडीयू रिश्तों पर फैसला दो से तीन दिनों में ले लेंगे। नरेंद्र सिंह के बयान पर कहा कि मीडिया की वजह से नेता बयान दे रहे हैं। आगे की रणनीति के बाद कुछ कहा जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *