AAP स्‍टाइल में शिवराज

Tatpar 11 Jan 2014

भोपाल. तीसरी मर्तबा मध्‍य प्रदेश का सीएम बनने के बाद शुक्रवार को पहली बार शिवराज सिंह चौहान ने शहर के विकास का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान वह टाउन एंड कंट्री प्लानिंग (टीएंडसीपी) के संयुक्त संचालक वीपी कुलश्रेष्ठ के कमरे में अचानक पहुंचे तो उन्हें कुलश्रेष्ठ धूम्रपान करते नजर आए। चौहान के निर्देश पर कलेक्टर निशांत वरवड़े ने कुलश्रेष्ठ पर तत्‍काल धूम्रपान प्रतिबंध कानून के तहत 200 रुपए का जुर्माना लगा दिया। देश भर में सार्वजनिक स्थलों पर धूम्रपान पर रोक है। सरकारी दफ्तरों में भी यह प्रतिबंध लागू है।

मुख्यमंत्री ने दोपहर साढ़े तीन बजे कलेक्टर को बुलाकर दौरे की जानकारी दी और फिर काफिले को कोलार रोड चलने के निर्देश दिए।

सीएम के लिए रोका नहीं गया ट्रैफिक

मुख्यमंत्री के काफिले का अंदाज दूसरे दिनों से जुदा था। सीएम का काफिला और आम लोगों की गाड़ियां साथ-साथ चल रही थीं। सीएम का काफिला आम गाड़ियों की तरह रुका रहा।

सड़क पर बैठकर जांची गुणवत्ता

शाहपुरा से वल्लभ भवन के लिए रवाना हो रहे सीएम पत्रकार कॉलोनी में नई बनी सड़क को देखकर रुक गए। यहां एक दिन पहले ही मुख्यमंत्री अधोसंरचना योजना के तहत डामरीकरण हुआ था। सीएम के निर्देश पर तुरंत सड़क के मटेरियल की जांच करवाई गई। गेंती से सड़क को खोदा गया, जिसमें सड़क की मोटाई 6 सेमी मिली। यह मानक के आधार पर ठीक थी। मुख्यमंत्री डामर की गुणवता परख कर दो घंटे बाद रिपोर्ट देने के निर्देश देकर वल्लभ भवन के लिए रवाना हो गए। निगम की रिपोर्ट में डामर कंटेंट सही निकला।