BSF ने बांग्लादेश को सौंपी 39 टेररिस्ट कैंपों की लिस्ट, कहा-इन्हें तबाह करो

शिलॉन्ग. भारतीय बीएसएफ ने बॉर्डर गार्ड्स ऑफ बांग्लादेश (बीजीबी) को उनके देश में चल रहे 39 टेररिस्ट कैंपों की लिस्ट देकर उन्हें खत्म करने को कहा है। हाल ही में भारतीय सेना ने म्यांमार में एक ऑपरेशन कर मणिपुर में सेना के जवानों पर जानलेवा हमला करने वाले उग्रवादियों के कैपों को तबाह कर दिया था।
बीएसएफ के प्रवक्ता सुशील कुमार सिंह ने कहा “खुफिया विभाग से मिली सूचना के आधार पर 39 शिविरों की सूची दे दी गई है। बीजीबी ने हमारे द्वारा दी गयी सूचना के आधार पर कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है।” बीएसएफ के डीजी और बीजीबी के क्षेत्रीय कमांडरों के बीच यहां हुई चार दिवसीय दि्वपक्षीय सीमा सहयोग बैठक के दौरान यह सूची बीजीबी को सौंपी गई।
कौन से संगठन हैं लिस्ट में
सिंह ने कहा कि इस लिस्ट में उल्फा, नेशनल डेमोक्रेटिक फ्रंट ऑफ बोडोलैंड (एनडीएफ संगबिजित गुट), एचएनएलसी, पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) समेत सीमा पार सक्रिय कई आतंकवादी समूहों के ठिकानों की जानकारी दी गई है। उन्होंने बताया कि ये आतंकवादी शिविर म्यमेंसिंग, मौलवीबाजार, नेत्रकोना, खगराचारी, रंगमती, चिटगांव हिल ट्रैक्ट्स और कासलोंग रिजर्व फॉरेस्ट के तहत आने वाले क्षेत्रों में हैं।
बांग्लादेशी उग्रवादी शिविरों में आई कमी
बीएसएफ अधिकारी के अनुसार, बांग्लादेश सेना द्वारा उठाए गए कदमों के कारण बांग्लादेशी उग्रवादी शिविरों की संख्या में कमी आई है। बीएसएफ ने बीजीबी से नकली भारतीय करेंसी और मादक पदार्थ की तस्करी को रोकने के लिए कठोर कदम उठाने के लिए भी कहा है। बीएसएफ ने भारत में बांग्लादेशी नागरिकों द्वारा अंजाम दिए जाने वाले अपराधों, अवैध घुसपैठ, भारतीय सीमा से बांग्लादेशी नागरिकों द्वारा भारत के प्राकृतिक संसाधनों के दोहन, बीजीबी द्वारा भारतीय सीमा क्षेत्रों पर विकास संबंधी गतिविधियों में बाधा पैदा करने जैसे मुद्दे भी उठाए। बीजीबी ने भी भारत के सीमावर्ती क्षेत्रों में रहने वाले लोगों द्वारा निहत्थे बंगलादेशी नागरिकों की हत्या और उन्हें घायल करने और बंगलादेश में भारतीयों की घुसपैठ पर रोक लगाने के लिए कहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *