CAA Protest पर बोले पाकिस्तानी हिंदू; समझे उनके दर्द और बंद करें प्रदर्शन

पूरे देश में इस वक्त नागरिकता संशोधन कानून को लेकर विरोध प्रदर्शन हो रहा है। इस बीच पाकिस्तानी हिंदूओं ने सभी से अपील की है कि वह उनके दर्द को समझे और इस कानून के खिलाफ चल रहे विरोध प्रदर्शन को खत्म कर दें। बता दें कि पिछले काफी दिनों से नागरिकता संशोधन बिल 2019 को लेकर पूरे देश में प्रदर्शन चल रहा है। आज यानी मंगलवार को भी जामिया मिल्लिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी के छात्र समेत दिल्ली यूनिवर्सिटी के छात्र एवं सामाजिक कार्यकर्ता जंतर-मंतर पर इस कानून के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं। इस विरोध प्रदर्शन के चलते कई लोगों की जान भी गई। 

हाल ही में नागरिकता संशोधन बिल के पास होने के बाद हिंदुस्तान में रहने वाली पाकिस्तानी मूल मीरा दास ने अपनी बच्ची का नाम नागरिकता रखा था। इसके बाद उन्होंने कहा कि पाकिस्तान में हमने अपना घर, प्रॉपटी छोड़ी है और अब भारत ही हमारा घर है। साथ ही उन्होंने प्रश्न उठाते हुए कहा कि अगर अब हम पाकिस्तान जाना चाहेंगे तो क्या वह हमे स्वीकार करेंगे। इसके बाद उन्हें इस कानून के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे प्रदर्शनकारियों से गुजारिश करते हुए कहा कि वह कृपया हमारे दर्द को समझें और हिंसा ना करें।

बता दें कि मीरा दास साल 2011 में दिल्ली आई थी। एक प्रेस वार्ता में उन्होंने प्रदर्शनकारियों पर विरोध करते हुए कहा कि अगर आप लोग भी हमारे जीतने दर्द से गुजरते तो कभी इस कानून का विरोध नहीं करतें। इस कानून ने हमें नई जिंदगी दी है। गौरतलब  है कि इस कानून को धार्मिक आधार पर भेदभावपूर्ण बताते हुए प्रदर्शनकारी विरोध कर रहे है। 

असम से शुरू हुए इस विरोध का असर देश के की राज्यों में उग्र होता दिखा। जिसके चलते दिल्ली के कई इलाकों में धारा 144 भी लगाई गई। वर्तमान में दिल्ली के जतंर-मतर पर इस कानून का विरोध प्रदर्शन चल रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *