#Intolerence: स्नैपडील के ऐड में भी नहीं दिखेंगे आमिर, रीन्यू नहीं हुआ कॉन्ट्रैक्ट

नई दिल्ली. अब आमिर खान ई-कॉमर्स कंपनी स्नैपडील के ऐड में भी नहीं दिखेंगे। कंपनी ने आमिर कॉन्ट्रैक्ट को रीन्यू नहीं करने का फैसला किया है। स्नैपडील के साथ आमिर की एक साल की डील इस महीने के अंत में खत्म हो रही है। एडवरटाइजिंग एक्सपर्ट्स इसे आमिर के इन्टॉलरेंस वाले बयान से जुड़ा बता रहे हैं। डील को आगे बढ़ाने का कोई इरादा नहीं…
– स्नैपडील के एक ऑफिशियल के मुताबिक ‘डील पहले ही एक साल के लिए बढ़ा दी गई थी। लेकिन अब कंपनी ने ऐसा न करने का फैसला किया है।’
– स्नैपडील ने इन्टॉलरेंस कॉन्ट्रोवर्सी सामने आने के बाद आमिर का ऐड दिखाना बंद कर दिया था।
– बता दें कि कंपनी ने आमिर के साथ ‘दिल की डील’ के स्लोगन के साथ वाला ऐड बनाया था।
– गुड़गांव की ऐड एजेंसी ‘बैंग इन द मिडल’ के मैनेजिंग पार्टनर प्रताप सुल्तान के मुताबिक मुझे लगता है कि ब्रांड (स्नैपडील) अपने एंबेसडर को लेकर कुछ ज्यादा ही सख्ती कर रहा है।
– ‘एक बात तो यह कि आमिर का बयान पूरा नहीं था। कंपनी ने आमिर की पॉपुलैरिटी को कोई तरजीह ही नहीं दी। उन्होंने आमिर की उस काबिलियत को भी इग्नोर कर दिया जिसके लिए वे जाने जाते हैं।’
– सुल्तान 2004 में बीजेपी की इंडिया शाइनिंग कैम्पेन और टूरिज्म मिनिस्ट्री के इन्क्रेडेबल इंडिया प्रमोशन से भी जुड़े रहे हैं।

#Intolerance पर आमिर खान ने क्या कहा था…

– नवंबर में उन्होंने कहा था, ”देश का माहौल देखकर एक बार तो पत्नी किरण ने पूछा था कि क्या हमें देश छोड़ देना चाहिए? किरण बच्चे की हिफाजत को लेकर डरी हुई थीं।”
– बयान के बाद सोशल मीडिया पर आमिर को जमकर विरोध का सामना करना पड़ा था।
सरकार ने कहा- अतिथि देवो भव: कैम्पेन से नहीं हटाए गए आमिर
अतिथि देवो भव: कैम्पेन से उसके ब्रांड एम्बेसडर आमिर खान को हटाए जाने की खबरों को टूरिज्म मिनिस्ट्री ने खारिज किया था। इससे पहले मीडिया के हवाले से ऐसी खबरें आई थीं।

टूरिज्म मिनिस्ट्री ने क्या कहा?

– टूरिज्म मिनिस्टर महेश शर्मा ने कहा कि उन्हें (आमिर को) हटाया नहीं गया, बल्कि कॉन्ट्रैक्ट खत्म हो गया था।
– शर्मा ने इंडियन एक्सप्रेस को बताया था कि ऐड एजेंसी ‘मैक्कैन वर्ल्डग्रुप’ के साथ ये पूरी तरह से एक कॉन्ट्रैक्चुअल मामला है।
– एजेंसी के साथ 2.96 करोड़ रुपए का करार हुआ था। एजेंसी ने मिनिस्ट्री के लिए ऐड फिल्म में उन्हें कास्ट किया था।
– करार की अवधि हाल ही में खत्म हो गई थी।