J&K में घुसपैठ की कोशिश नाकाम, सिक्युरिटी फोर्सेस ने 4 आतंकी मार गिराए

श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर के रामपुर सेक्टर में सिक्युरिटी फोर्सेस ने घुसपैठ की कोशिश को नाकाम करते हुए 4 आतंकी मार गिराए। फिलहाल त्राल के सैमू इलाके में सर्च ऑपरेशन जारी है। बता दें कि इंडियन आर्मी ने शुक्रवार को पाकिस्तान बॉर्डर एक्शन टीम (BAT) के 2 आतंकियों को मार गिराया था। ये उड़ी सेक्टर में एलओसी के पास आर्मी की पेट्रोलिंग टीम पर अटैक की प्लानिंग कर रहे थे।
दोनों तरफ से हो रही गोलीबारी…
आर्मी के एक अफसर के मुताबिक, ऑपरेशन अभी जारी है। आतंकियों ने घुसपैठ की है। दोनों तरफ से गोलीबारी हो रही है।
गुलहाटा पोस्ट के पास हुआ था एनकाउंटर
– डिफेंस मिलिट्री स्पोक्सपर्सन कर्नल राजेश कालिया ने बताया था- “बारामूला के उड़ी सेक्टर में गुलहाटा पोस्ट के पास शुक्रवार सुबह भारी हथियार से लैस आतंकी देखे गए। ये पेट्रोलिंग पार्टी पर हमला करने की कोशिश में थे। इंडियन जवानों ने उन्हें रोकने की कोशिश की। तभी फायरिंग शुरू हो गई। जवानों ने इन्हें मार गिराया।”
– ” बाद में इनकी पहचान पाकिस्तान बॉर्डर एक्शन टीम के मेंबर्स के तौर पर हुई।”
– न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, पुलिस ने बताया कि इन आतंकियों की बॉडी ‘नो मेंस लैंड’ में देखी गई। यह वह इलाका होता जो भारत-पाक की सीमा के बीच है। जहां किसी का कब्जा नहीं है।
पुंछ में घात लगाकर आर्मी की टुकड़ी पर किया था अटैक
– 1 मई कृष्णा घाटी में पाकिस्तान ने पहले रॉकेट और भारी हथियारों से हमला किया था। भारत की तरफ से भी जवाब दिया गया था। इस दौरान दो पोस्ट के बीच भारतीय जवानों की एक टुकड़ी एलओसी पर लगी तारों की फेंसिंग पार कर लैंडमाइंस की चैकिंग के लिए आगे गई थी। पाकिस्तान की BAT वहां पहले से घात लगाकर बैठी थी। उसकी फायरिंग में हमारे दो जवान शहीद हो गए। इसके बाद BAT ने शहीदों के शवों के साथ बर्बरता की। उनके सिर काट दिए गए।
– वहीं, आर्मी के एक सीनियर अफसर ने बताया- “यह सोचा समझा हमला था। पाकिस्तान आर्मी की बीएटी टीम एलओसी पार कर भारतीय सीमा में करीब 250 मीटर तक घुस आई थी। ये काफी देर से हमले को अंजाम देने का इंतजार कर रहे थे। सोमवार सुबह पाक ने रॉकेट और मोर्टार से हमला किया। भारतीय पोस्ट पर तैनात जवानों को उलझाए रखा। इसके बाद उनका टारगेट 7 से 8 मेंबर वाली पेट्रोलिंग पार्टी थी, जो पोस्ट से बाहर चैकिंग के लिए आई थी।”
BAT ने दो जवानों के सिर काट दिए थे
– पाक के हमले में 22 सिख इन्फैंट्री के नायब सूबेदार परमजीत सिंह और बीएसएफ की 200वीं बटालियन के हेड कॉन्स्टेबल प्रेम सागर शहीद हो गए। वहीं, बीएसएफ के कॉन्स्टेबल राजेंद्र सिंह जख्मी हो गए थे। बता दें कि शहीद प्रेम सागर यूपी के देवरिया के रहने वाले थे।
क्या है BAT ?
– BAT का पूरा नाम पाकिस्तान बॉर्डर एक्शन टीम है। इसके बारे में सबसे पहले पांच और छह अगस्त 2013 की दरमियानी रात को पता लगा था। तब इसने एलओसी पर पेट्रोलिंग कर रही भारतीय सेना की टुकड़ी को निशाना बनाया था।
– BAT हकीकत में पाकिस्तान की स्पेशल फोर्स से लिए गए सैनिकों का ग्रुप है। हैरानी की बात ये है कि BAT में सैनिकों जैसी ट्रेनिंग पाए आतंकी भी हैं। ये एलओसी में 1 से 3 किलोमीटर तक अंदर घुसकर हमला करने के लिए तैयार किया गया है।
– BAT को स्पेशल सर्विस ग्रुप यानी एसएसजी ने तैयार किया है। यह पूरी प्लानिंग के साथ अटैक करती है। ये टीम पहले खुफिया तौर पर ऑपरेशनों को अंजाम देती थी लेकिन बाद में मीडिया की वजह से खबरों में रहने लगी।