भोपाल। लंबे समय से अपनी कृषि भूमि पर बारिस के मौसम में सिर्फ एक फसल लेते आ रहे भोपाल जिले की बैरसिया तहसील के ग्राम पंचायत सोनकच्छ के ग्राम टांडा निवासी गरीब कृषक विक्रम सिंह सहरिया की कपिलधारा कुएँ ने तकदीर बदल दी है। अब विक्रम सिंह ने अपने ही खेत में सिंचाई वाला कुआं खनन कर न केवल खेत के लिए पानी की व्यवस्था की बल्कि मनरेगा योजना में कुआं खुदाई की मजदूरी से पैसा भी कमाया। अपने खेत में सिंचाई का स्थाई साधन बन जाने से विक्रम सिंह अब साल में तीन फसल लेने के साथ सब्जियों का उत्पादन भी कर रहे हैं। विक्रम बताते है कि-“कपिलधारा कुएँ से उनकी कृषि आय में 3 से 4 गुना वृद्धि हुई है, जिससे वे अपने परिवार का लालन-पालन बेहतर तरीके से कर पा रहे हैं।” राज्य सरकार से उन्हें कपिलधारा कूप के लिये 2 लाख 91 हजार रूपये स्वीकृत हुए थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here