कांग्रेस बेजोड़, भाजपा के पास नहीं कोई तोड़ : गहलोत

Tatpar 30/11/2013

 जोधपुर। राजस्थान में पिछले पांच सालों में विकास का जबरदस्त माहैला बना है। प्रदेश में कांग्रेस सरकार की बेहतरीन नीतियों की वजह से 55 हजार करोड़ से अधिक का निवेश संभव हो पाया है और राजस्थान देश के अन्य दस राज्यों में सर्वोच्च स्थान पर पहुंच गया है। इस लिहाज से न केवल राजस्थान बल्कि राज्य की कांग्रेस सरकार बेजोड़ है जिसका भाजपा के पास कोई तोड़ नहीं है। यह कहना है मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का। उन्होंने शुक्रवार को अपने जोधपुर प्रवास के दौरान पत्रकारों से अनौपचारिक बातचीत करते हुए कहा कि राज्य में कांग्रेस सरकार के सुशासन की वजह से आम नागरिक ही नहीं अपितु उद्योग व व्यापार जगत भी बेहद खुश है। उनकी सरकार के बेहतर वित्तीय प्रबंधन से राज्य में विकास का जो माहौल बना वह अनुकरणाीय है। राजस्थान ही पूरे देश में एक ऐसा राज्य है जहां सभी विषयों के उच्च स्तरीय शैक्षणिक संस्थान है। आईआईटी, आईआईएम, एम्स, ट्रिपल आई, कें्रदीय विश्वविद्यालय के साथ साथ विधि, पुलिस, पत्रकारिता, खेत, कृषि व खेल विश्वविद्यालय भी अकेले राजस्थान में ही खुले हैं। 40 हजार 500 करोड़ का विशाल बजट पारित करवाना भी अपने आप में बेमिसाल है। गहलोत ने कहा कि प्रदेश की जनता में सामाजिक सुरक्षा व स्वास्थ्य सुरक्षा के साथ साथ सूचना, शिक्षा तथा भोजन का अधिकार देने में भी उनकी सरकार की नीतियां अद्वितीय व अनुपम है जो देश के अन्य राज्यों में तो क्या भाजपा शासित राज्यों में भी लागू नहीं है। जनता को राहत देने के लिए कांग्रेस सरकार ने कोई कसर नहीं छोड़ी। मुख्यमंत्री निशुल्क दवा योजना की दवाइयों को वसुंधरा राजे द्वारा जहर बताए जाने के सवाल पर मुख्यमंत्री गहलोत एक बार तो गरज पड़े और फिर सयंत भाव से बोले कि वे बहुराष्टÑीय दवा कंपनियों से मिली हुई है और एक अंतर्राष्टÑीय लॉबी के इशारे पर जीवन दायिनी दवाइयों को जहर बताने का कुत्सित कार्य कर रही है। वसुंधरा राजे के रेवड़ियां बांटने के बयान पर भी गहलोत जमकर बरसे और कहा कि वे जिन रेवड़ियों की बात कर रही हैं उससे वास्तविक तौर पर राज्य की जनता सामाजिक व आर्थिक तौर पर खुद को सुरक्षित महसूस करने लगी है। प्रदेश में बिजली उत्पादन की चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि राज्य में विद्युत उत्पादन के मामले में भी नया कीर्तिमान स्थापित किया है। पूर्ववर्ती भाजपा सरकार पूरे पांच साल शेखियां बघारती रही और महज 9 लाख घरों तथा 1.40 लाख किसानों को ही बिजली मुहैय्या करवा सकी। इससे उलट उनकी सरकार ने बीते पांच सालों में 24 लाख नए कनेक्शन दिए और तीन लाख से ज्यादा किसानों को बिजली उपलब्ध करवाई। गहलोत ने एक बार फिर जोर देकर कहा कि राज्य की जनता सब समझती है जनता यह भी जानती है कि कौन सच्चा है और कौन फरेबी। भाजपा के पास कोई मुद्दा ही नहीं है वह तो बस नरेंद्र मोदी को आगे कर सत्ता हथियाने के मंसूबे बांध रही है। जबकि कांग्रेस सुशासन, विकास और जन सुरक्षा के मुद्दों पर निरंतर आगे बढ़ रही है, बीते पांच सालों के कार्यकाल में हमारा पूरा ध्यान इन मुद्दों पर ही रहा और हम काफी हद तक सफल भी रहे हैं। पिछले चुनाव के पूर्व के घोषणा पत्र की 92 फीसदी घोषणाओं और वादों को कांग्रेस सरकार ने अमली जामा पहनाया है। राज्य के इतिहास में आज तक यह कमाल कोई सरकार नहीं दिखा पाई वह हमने कर दिखाया। ऐसे में पूरे प्रदेश में विकास का जो नया माहौल बना है और उसे जो अपार जन समर्थन मिला है तो ऐसी कोई ताकत नहीं कि कांग्रेस को फिर से सत्ता में आने से रोक सके। गहलोत के समर्थन में जोधपुर की टीम इंडिया ने लगाया जोर अशोक गहलोत की प्रचार प्रसार में जेडीए चैयरमेन राजेन्द्र सिंह सौलंकी की शहर में जगजाहिर लोकप्रिय टीम इंडिया के नाम से मशहूर वरिष्ठ कांग्रेसियों की फौज ने जमकर प्रचार किया। जिसमें रघुवीर सैन, कर्णसिंह इंदा, नरेन्द्र चौहान, राजेश सारस्वत व अन्य शामिल थे।