भोपाल। अगर सूत्रों की माने तो एनडीए के समर्थित उपराष्ट्रपति पद के उम्मीदवार पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह हो सकते है। अंदर खाने की आ रही खबरों के अनुसार कैप्टन अमरिंदर सिंह की पार्टी पंजाब लोक कांग्रेस का भाजपा में बिलय हो सकता है। ऐसा करने के बदले में अमरिंदर सिंह को जहां उपराष्ट्रपति पद का उम्मीदवार एनडीए घोषित करेगी। वहीं पंजाब में अमरिंदर सिंह की छबि का लाभ आने वाले लोकसभा चुनाव में भाजपा को मिलने की उम्मीद जताई जा रही है।
बतादें कि कैप्टन अमरिंदर सिंह पंजाब विधानसभा चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस छोड़ कर अपनी नई पार्टी बनाई थी। श्री सिंह को पंजाब की राजनीति में कद्दावर नेता माना जाता है। हालांकि हाल ही में हुए विधानसभा चुनाव में उनकी पार्टी कोई खास नहीं कर सकी है। ऐसे में उम्मीद जताई जा रही है कि श्री सिंह भाजपा के प्रस्ताव को मान लें और वे अपनी पार्टी का विलय भाजपा में करने की घोषण आने वाले दिनों में कर सकते है। यहां जानने वाली बात यह है कि कुछ दिन पहले भाजपा के एक बड़े नेता ने गुप्त रूप से मीडिया को बताया था कि राष्ट्रपति पद के लिए जहां आदिवासी चेहरा सामने लाया गया है तो उपराष्ट्रपति पद के लिए उत्तर भारत के किसी राज्य से उम्मीदवार पर विचार किया जा रहा है। साथ ही कहा गया था कि पंजाबी उम्मीदवार को तरजीह दी जा सकती है। इसी लिए कयास लगाए जा रहे है कि कैप्टन अमरिंदर सिंह इस पद के लिए उचित उम्मीदवार हो सकते है। हालांकि यह केवल सूत्रों के हवाले से ही खबरें है इसकी पुष्टि नहीं की जा सकती है।
इसी माह की 18 जुलाई को देश के लिए नए राष्ट्रपति मिल जाएगे। वहीं उपराष्ट्रपति पद के चुनाव की घोषण बीते दिनों चुनाव आयोग ने कर दी है। चुनाव आयोग के अनुसार चुनाव के लिए अधिसूचना पांच जुलाई को जारी होगी। उम्मीदवार इसके लिए 19 जुलाई तक नामांकन दाखिल कर सकते हैं। चुनाव के लिए आयोग ने छह अगस्त की तारीख तय की है।
देश के मौजूदा उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू का कार्यकाल 11 अगस्त को समाप्त हो रहा है। ऐसे में हर किसी की नजर राष्ट्रपति चुनाव के साथ-साथ उपराष्ट्रपति चुनाव पर भी टिक गई है। दरअसल, राष्ट्रपति पद का चुनाव 18 जुलाई को होगा और 21 जुलाई को नतीजे आएंगे। चूंकि भाजपा और विपक्ष पहले ही राष्ट्रपति पद के उम्मीदवारों का एलान कर चुके हैं, इसलिए अब उपराष्ट्रपति पद के लिए चेहरों की खोज तेज हो गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here