जो लोग काम ही नहीं करते उनसे क्या गलती होगी: वसुंधरा

Tatpar 27 feb 2014

जो लोग काम ही नहीं करते, उससे क्या गलती होगी। अभी भाजपा की सरकार को बने दो महीने हुए है। मैं जल्दबाजी मे कोई काम नहीं करना चाहती हूं, क्योंकि जल्दबाजी में गलती होने की संभावना रहती है। इसलिए मैंने संभागवार जाकर गरीब जनता की आवाज सुन रही हूं ताकि उसका लाभ गांव व गरीब तक पहुंच सके। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने यह बात मंगलवार को लक्ष्मण नगर ((चाडी)) में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता स्व. परसराम मदेरणा को पुष्पांजलि अर्पित करने के बाद श्रद्धांजलि सभा में कही। उन्होंने स्व. मदेरणा की आत्मा की शांति के लिए दो मिनट का मौन रखकर प्रार्थना भी की। शोक संतप्त मदेरणा परिवार को ढांढस बंधाने के लिए मंगलवार को मुख्यमंत्री अपने सांसद पुत्र दुष्यंतसिंह के साथ लक्ष्मणनगर पहुंची। मदेरणा के निवास पर पहुंचकर उन्होंने परसराम मदेरणा एवं उनकी पत्नी छोटी देवी की समाधि पर पुष्प चक्र अर्पित कर श्रृद्धांजलि दी। उसके पश्चात् मुख्यमंत्री ने मदेरणा के पुत्र महिपाल मदेरणा, पुत्र वधु लीला व पौत्री दिव्या मदेरणा सहित परिवार जनों से मिलकर उन्हें सांत्वना दी तथा शोक प्रकट किया।
मदेरणा परिवार से रिश्ता
बहुत पुराना
शोक सभा में मुख्यमंत्री ने कहा कि वे परिवार के सदस्य के रूप में आई है। उनका मदेरणा परिवार से रिश्ता बहुत पुराना है और सुख दु:ख में मदेरणा एवं सिंधिया परिवार एक दूसरे के साथ खड़े रहे है। उन्होंने महिपाल मदेरणा को अपना भाई बताते हुए बोली कि इस दुख की घड़ी में मैं उनसे मिलने आई हूं। राजे ने किसी भी परिस्थिति में मदेरणा परिवार का सहयोग देने का वादा किया, लेकिन कहा कि यह सहयोग सिर्फ जायज काम में ही मिलेगा। शोकसभा में उपस्थित लोगो ने राजे का जोरदार स्वागत किया।