नईदिल्ली। पंजाब की राजनैतिक उठापटक के बाद पूर्व मुख्यमंत्री द्वारा गृहमंत्री अमित शाह से हुई मुलाकात में दी गई सूचना के उपरांत पहली बार पाक की नापाक करतूत उजागर हुई है। बतादें कि पंजाब का माहौल खराब करने लिए पाक की ओर से लगातार प्रयास किए जा रहे हैं और डीजीपी इकबाल प्रीत सिंह सहोता ने मंगलवार को ही अलर्ट किया था। जिस दौरान काउंटर इंटेलिजेंस की टीम को पता चला कि ड्रोन के माध्यम से पाकिस्तान से असलहा की खेप भारत भेजी गई है।
रात को सेक्टर खेमकरण के बीओपी टीबंध के पास प्लास्टिक के बैग को बरामद किया गया। जिसकी बीएफएफ और काउंटर इंटेलिजेंस के अधिकारियों ने तलाशी ली। बैग से 9एमएम मार्का के 22 विदेशो पिस्टल, 44 मैगजीन, 100 कारतूस, एक किलो हेरोइन, 72 ग्राम अफीम मिली। जिसके बाद बीएसएफ और काउंटर इंटेलिजेंस ने मिलकर तलाशी आभियान शुरू कर दिया है।
काउंटर इंटेलिजेंस के अधिकारियों को कुछ फोन नंबर मिले थे जिनकी ट्रेसिंग की गई। ट्रेसिंग दौरान कुछ नाम सामने आए जो पहले भी पाक से असलहा और नशा मंगवा चुके थे। इसके साथ पता चला कि रात को ड्रोन के माध्यम से और खेप आई हैं। इस खेप को बीएसएफ की 101 बटालियन के असिस्टेंट कमांडेंट आशीष कपूर, काउंटर इंटेलिजेंस के 4 इंस्पेक्टर इंदरदीप सिंह की संयुक्त टीम ने बरामदगी की। सूत्रों के मुताबिक खालिस्तानी मूवमेंट को हवा देने लिए पाकिस्तान में बड़ी योजना बनाई गई है।
भारत-पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय सीमा पर स्थित बीओपी राजाताल के पास बीएसएफ के जवानों ने मंगलवार की देर रात ड्रोन की आवाज सुनी। इसके बाद बीएसएफ ने ड्रोन को तुरंत जमीन पर गिराने के बाद दो राउंड फायर किए। लेकिन वह पाकिस्तानी क्षेत्र में घुस गया। इसके बाद बीएसएफ और पुलिस देहाती पुलिस ने मिलकर राजाताल और आसपास के गांवों में सर्च अभियान चलाया। सुबह 9.30 बजे फोर्स को एक लिफाफा बरामद हुआ। जिसमें कुछ हेरोइन रखी हुई थी। फिलहाल मामले की जांच करवाई जा रही है और सर्च भी जारी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here